DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार मुक्त समाज के लिए सोशल ऑडिट जरूरी

वर्तमान भारतीय राजनीतिक एवं सामाजिक परिदृश्य में गदर पार्टी की विचारधारा को प्रासंगिक बताते हुए राजनीतिक एवं सामाजिक मामलों के जानकार ने कहा है कि समाज को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए सोशल ऑडिट आवश्यक है।

देश भगत यादगार कमेटी की ओर से आयोजित गदर पार्टी की स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए गुरुनानक देव विश्वविद्यालय के राजनीति शास्त्र विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष तथा पूर्व कुलसचिव डॉ हरीश पुरी ने कहा कि आज के दौर में गदर पार्टी के विचारधारा की प्रासंगिकता बढ़ गयी है।

उन्होंने कहा कि पार्टी की विचारधारा साम्राज्यवाद के खिलाफ और सभी वर्गों को बराबरी का दर्जा दिये जाने और भ्रष्टाचार मुक्त तथा आर्थिक सामाजिक भेदभाव रहित समाज की स्थापना की थी।

पुरी ने कहा कि भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे हुए नेताओं को अब आम आदमी के प्रति जवाबदेह होना होगा। सोशल ऑडिट समय की जरूरत है। जनता जब अपने चुने हुए प्रतिनिधि के साथ छह महीने में बैठक कर हिसाब मांगेगी तो खुद ही भ्रष्टाचार समाप्त हो जाएगा। फिर इसके लिए किसी कानून की आवश्यकता नहीं होगी।

पूर्व प्राध्यापक ने यह भी कहा कि अब समय आ गया है जब प्रतिनिधियों को जनता के प्रति उत्तरदायी होना होगा। जनता को अपने प्रतिनिधियों से यह पूछना चाहिए कि उन्होंने उनके लिए इस खास अवधि में क्या किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्टाचार मुक्त समाज के लिए सोशल ऑडिट जरूरी