DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निगम चुनाव के मद्देनजर सुरक्षा के कडे़ इंतजाम

दिल्ली नगर निगम के चुनावों के दौरान हिंसा की आशंका के मद्देनजर आगामी रविवार को होने वाले मतदान के लिए सुरक्षा के कडे़ प्रबंध किए गए हैं।

दिल्ली में मतदान पूर्व हुई हिंसा की दो बडी घटनाओं में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता जयप्रकाश की मौत हो चुकी है तथा रोहणी वार्ड से शिव सेना के प्रत्याशी सुनील कुमार छीकारा पर हमला हो चुका है। हालांकि रोज छिटपुट हिंसा की छोटी-मोटी घटनाएं नामांकन दाखिल करने के बाद से ही हो रही है।

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि राजधानी में चुनावी हिंसा की घटनाएं प्राय: नहीं हुआ करती थी लेकिन इस निगम चुनाव में ऐसी कुछ घटनाएं हुई हैं इस वजह से दिल्ली निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों के अनुपालन में राजधानी में मतदान के दिन 15 अप्रैल को सुरक्षा के कडे प्रबंध किए गए हैं।
उन्होंने बताया कि 75 हजार से अधिक पुलिस बल तैनात होंगे। जिनमें दिल्ली पुलिस के 55 हजार कर्मी, पांच हजार होमगार्ड के जवान तथा शेष अर्धसैनिक बल के जवान होंगे। उन्होंने बताया कि सुरक्षा के लिए जिला पुलिस प्रमुखों एवं थानाध्यक्षों को खासतौर से निर्देश दिए गए हैं तथा सहायक पुलिस आयुक्तों को अपने अपने इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा के लिए नियमित पेट्रोलिंग कडी़ कर दी गई है। इसके साथ ही चुनाव के लिए अधिसूचना जारी होने के तुरंत बाद से जगह-जगह बेरिकेट लगाकर नियमित रुप से चेकिंग की जा रही है। उन्होंने बताया कि खासतौर से बाहर से आने वाले वाहनों पर नजर रखी जा रही है क्योंकि इन वाहनों से चुनाव में इस्तेमाल के लिए बडे पैमाने पर बाहर से शराब लाए जाने की सूचना है। कई जगहों पर बडे पैमाने पर शराब की बोतले बरामद भी की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निगम चुनाव के मद्देनजर सुरक्षा के कडे़ इंतजाम