DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माता-पिता ने बच्ची को छोड़ा लावारिस

समाज में बेटा-बेटी के बीच में भेदभाव करने की मानसिकता उस समय सामने आयी जब एक दम्पति ने अपनी डेढ़ वर्ष की बच्ची को सरकारी अस्पताल में छोड़ दिया।

समद्ध परिवार से लगने वाले दम्पत्ति ने अपनी बच्ची को कल सरकारी अस्पताल में एक वृद्धा के पास छोड़ दिया। जब दम्पति बच्ची को वापस लेने के लिए नहीं आया तो वृद्धा ने इसकी सूचना अस्पताल अधिकारियों को दी जिन्होंने बच्ची को अपने कब्जे में लेकर इसके बारे में पुलिस को सूचना दी।

सरकारी अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डां असरुद्दीन ने बताया कि अस्पताल की नर्सें बच्ची की देखभाल कर रही हैं जो कि तंदुरुस्त है और उसके शरीर पर कोई चोट या घाव के निशान नहीं हैं। इसके साथ ही बच्ची की चिकित्सकीय जांच में यह बात सामने आयी है कि वह किसी बीमारी से पीडित नहीं है। ऐसा लगता है कि दम्पति ने बच्ची को इसलिए छोड़ दिया क्योंकि हो सकता है कि उन्हें बेटे की इच्छा हो।

पुलिस उपायुक्त डां अभय राव ने कहा कि हालांकि दम्पति का पता लगाना बहुत मुश्किल होगा लेकिन पुलिस उनकी तलाश करने का पूरा प्रयास करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माता-पिता ने बच्ची को छोड़ा लावारिस