DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऊंचाई का रोमांच और बिल्कुल सेफ

जिंदगी ना मिलेगी दोबारा एडवेंचर पसंद युवाओं को खूब रास आई। खासकर साड्डी दिल्ली की बात करें तो एडवेंचर युवाओं का आज सबसे बड़ा पैशन है। लेकिन इसी एडवेंचर के चक्कर में दिल्ली के पास एक मॉल में हुई दुर्घटना ने सुरक्षा को लेकर चिंताएं भी बढ़ाई हैं। अगर एडवेंचर और भरपूर सुरक्षा आप एक साथ पाना चाहते हैं तो कीजिए ऋषिकेश स्थित जंपिन हाइट्स की सैर। वहां की खूबियों और सुविधाओं का जायजा लेकर लौटे हैं विजय मिश्र

एडवेंचर टूर पर जाना और वहां के हालातों से रूबरू होकर वापस लौटना जिंदगी भर के लिए आपकी यादों में बस जाता है। और अगर मौका हो पहाड़ों की ट्रैकिंग, वहां से हाई जंप और हवा में रस्सी के सहारे नदी के ऊपर घुमावदार स्विंग करने का, तब तो इसको आप चाहकर भी भुला नहीं पाएंगे। यदि आप वीकेंड में एडवेंचर टूर के लिए प्लानिंग कर रहे हैं तो इसके लिए सबसे मुफीद जगह उत्तराखंड का ऋषिकेश है।

सबसे पहली बात की यह दिल्ली के करीब है। साथ ही रियल एडवेंचर का अहसास करने के लिए यहां वो सारी चीजें मौजूद हैं जो आपको रोमांच से भर देंगी। महज वीकेंड के दो दिनों में अगर आप एक्सट्रीम एडवेंचर का हिस्सा बनना चाहते हैं तो निकल पड़िए ऋषिकेश में मोहनचट्टी के नीलकंठ रोड पर स्थित जंपिन हाइट्स की ओर। यहां तीन एडवेंचर गेम हैं। जिनकी प्रकृति को देखते हुए इसे आयोजकों ने एक्सट्रीम एडवेंचर नाम दिया है। बंजी जंप, फ्लाइंग फॉक्स, और जियांट स्विंग। ये तीनों ही गेम आपको अलग-अलग तरीके के अनुभव करवाएंगे।

फ्लाइंग फॉक्स से घबराना कैसा
जंपिन हाइट्स में उपलब्ध फ्लाइंग फॉक्स की खासियत यह है कि यह एशिया का सबसे लंबा फ्लाइंग फॉक्स है। यानी कि इसके एक ट्रिप की कुल लंबाई एक किमी है। और यह जमीन से 120 मीटर ऊंचाई पर स्थित है। यह गेम आपको बाकी दोनों गेमों के लिए वार्म अप का काम करेगा। इसको करने के लिए जंपिन हाइट्स के ऑफिस से ट्रैकिंग करते हुए ऊंची पहाड़ियों पर चढ़ते हुए ऊपर तक जाना है। ऊपर गेम प्वाइंट तक पहुंचने के रास्ते में बीच-बीच में बैठने के लिए कुर्सियां लगायी गयी हैं। जिन पर आप रुक-रुक कर सुस्ता सकते हैं।

हां, पानी या सॉफ्ट ड्रिंक की बोतल साथ लेकर चलना न भूलें। वैसे पहाड़ों के जानकारों का कहना है कि चढ़ाई के दौरान पानी ज्यादा नहीं पीना चाहिए। फ्लाइंग फॉक्स का मजा लेने से पहले वहां मौजूद ट्रेंड स्टाफ आपको पूरी तरह से आश्वस्त करेंगे कि इसमें किसी तरह का कोई खतरा नहीं और अगर खुदा न खास्ता कुछ होता है तो उसके लिए दोहरी सुरक्षा उपलब्ध है। यानी कि आपको फ्लाइंग फॉक्स की सवारी का आनंद लेने से पहले डबल हार्नेस पहनाया जाता है, जिससे इमरजेंसी में आपके पास बैकअप की सुविधा मौजूद रहे।

सबसे पहले यहां मौजूद बंजी हाइट्स के ट्रेंड कर्मी आपको हार्नेस पहनाते हैं और बताते हैं कि डरने कि जरुरत नहीं है। अब अगर आप किसी ग्रुप या साथी के साथ टूर पर निकले हैं तो फ्लाइंग फॉक्स में एक साथ तीन लोग एडवेंचर सवारी का मजा ले सकते हैं। इसमें आपको हार्नेस पहनाने के बाद पेट के बल लेटा कर हार्नेस के प्वाइंट को तार के साथ जोड़ दिया जाता है। और आपके आश्वस्त हो जाने के बाद एक किलोमीटर लंबी फ्लाइंग फॉक्स के लिए छोड़ दिया जाता है। इसमें आपकी स्पीड 160 किमी प्रति घंटे होती है।

जियांट स्विंग
इसमें आपको यहां पर 83 मीटर की ऊंचाई से जंप करना होता है। जिसके लिए आपको पूरी तरह से सुरक्षित दो हार्नेस (जिसमें से एक बैठने का और दूसरा चेस्ट हार्नेस होता है) पहनाए जाते हैं, जो कि फिक्सड तार रोपवे के माध्यम से जोड़ दिए जाते हैं। इसको करने के लिए आपमें इतनी ऊंचाई से जंप करने की हिम्मत होनी चाहिए। बस, इसके बाद आप ऐसे स्विंग करेंगे मानो कोई पेंडुलम दो पहाड़ी छोरों के बीच में झूल रहा हो। जंप और स्विंग पूरी करने के बाद आपको  धीरे-धीरे नीचे उतार दिया जाता है। जहां पर नदी बह रही है, जिसकी गहराई वहां पर महज 2 फीट है। इस एडवेंचर गेम में आप चाहें तो अकेले या दो लोग एक साथ रोमांच का मजा ले सकते हैं।

बंजी जंप
ये वो जंप है जिसको करने के लिए एडवेंचर प्रेमी सबसे ज्यादा यहां पर उत्साहित रहते हैं। वैसे तो ये पूरी तरह से सुरक्षित है लेकिन जब आप पहली बार इसके 83 मीटर ऊंचे जंप प्वाइंट से नीचे देखेंगे तो लगेगा कि वास्तव में ये ही रियल एडवेंचर है। फ्लाइंग फॉक्स, जियांट स्विंग और बंजी जंप पर पूरी तरह से ट्रेंड स्टॉफ रखा गया है। वहीं बंजी जंप का संचालन न्यूजीलैंड के महारथी स्टॉफ द्वारा किया जा रहा है।

बंजी जंप करने से पहले आपके टखने में रबड़ कॉर्ड्स से निर्मित रस्सी पहनायी जाती है, फिर वहां मौजूद न्यूजीलैंड के ट्रेंड स्टॉफ द्वारा सारी जरूरी जानकारी आपको दी जाती है। जंप से पहले आपको पूरा भरोसा दिलाया जाएगा कि वहां किसी भी मुश्किल हालात में वो आपकी हेल्प को पूरी तरह से तैयार हैं। जंप प्वाइंट पर इंट्री करने से पहले एक स्लोगन लिखा है ‘आइदर यू कैन ऑर यू कैन नॉट, नो मिडिल पाथ ऐट देयर’ जिसका सही मतलब आपको जंप के बाद समझ में आएगा। यानी कि जब आप एक बार जंप कर जाएंगे तो उसके बाद कोई रास्ता नहीं है बगैर पूरी जंप को किए वापस आने का।

83 मीटर की ऊंचाई से जंप करने के बाद आप तेजी से नीचे जाते-जाते अचानक स्प्रिंग की वजह से ऊपर की ओर ऑटोमेटिकली बैक आएंगे, जिसमें यकीनन आपको एक्सट्रीम एडवेंचर का अहसास होगा। और फिर हवा में स्विंग करने में जो मजा आएगा वो आपको हमेशा याद आएगा। जंप समाप्त होने के बाद आपको नीचे उतार कर एक बैज दिया जाता है जिस पर लिखा होता है ‘आई गॉट गट्स’। सच में आपको उस समय ये बैज किसी महान कार्य करने के बाद मिलने वाले पुरस्कार सरीखा लगेगा। आपका एडवेंचर टूर यहीं खत्म नहीं होगा बल्कि यहां से आप पैदल पहाड़ों की चढ़ाई चढ़ते हुए जंपिन हाइट्स के कैफेटेरिया तक जाने का लुत्फ उठाएंगे।

सुरक्षा के क्या हैं इंतजाम
जंपिन हाइट्स का संचालन करने वाले वहां के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर रिटायर्ड कर्नल मनोज कुमार ने बताया कि हम यहां पर होने वाले एडवेंचर गेम्स में इंटरनेशनल स्टैंडर्ड को पूरी तरह से फॉलो करते हैं। साथ ही यहां पर न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में होने वाले बंजी जंप के मानकों का पालन किया जाता है। गेम में लगा कोई भी स्टॉफ अनट्रेंड नहीं है। न्यूजीलैंड से आए एक्सपर्ट खुद ही इसका जिम्मा संभालते हैं। उत्तराखंड सरकार और भारत सरकार से इसकी अनुमति के बाद ही इसको यहां चलाया जा रहा है।

कैसे जाएं
दिल्ली से हरिद्वार तक ट्रेन से जा सकते हैं। वहां से ऋषिकेश जाने के लिए लोकल बसें मिल जाती हैं। आप चाहें तो अपनी लोकल गाड़ी भी किराए पर ले सकते हैं। ऋषिकेश पहुंच कर यहां स्थित लक्ष्मण झूला से तकरीबन 15 किलोमीटर की दूरी पर नीलकंठ रोड पर मोहनचट्टी गांव में स्थित है जंपीं हाइट्स।

टूर पर जाने से पहले
ऋषिकेश के एडवेंचर टूर पर निकलने से पहले आप अपने ट्रैवल बैग में स्पोर्ट्स शूज, बरमूडा, हल्के कपड़े (जिनसे चढ़ाई में गर्मी कम से कम हो) जरूर रखें। साथ ही खाने का ड्राई आइटम रखने पर भी आपको काफी सुविधा होगी।

ध्यान रखने वाली बातें

बंजी जंप के लिए
आयु कम से कम: 12 वर्ष
वजन: कम से कम 35 किग्रा,  अधिकतम 110 किग्रा

फ्लाइंग फॉक्स के लिए
आयु कम से कम: 12 वर्ष
वजन: कम से कम 20 किग्रा, अधिकतम 130 किग्रा

जियांट स्विंग के लिए
आयु कम से कम: 12 वर्ष
वजन: कम से कम 30 किग्रा, अधिकतम 130 किग्रा

पैकेज

बंजी जंप: फ2500
स्विंग:  फ2500
फ्लाइंग फॉक्स: 1500 रुपए प्रति व्यक्ति (अगर एक साथ तीन लोग कर रहे हैं), यदि आप अकेले फ्लाइंग फॉक्स का आनंद उठाना चाहते हैं तो इसके लिए भी आपको 2500 रुपए देने होंगे

नोट:  आप कोई एडवेंचर गेम दोबारा करना चाहते हैं तो आपका काम सस्ते में हो जाएगा। फ्लाइंग फॉक्स 1000 रुपए में तो बंजी और स्विंग के लिए सिर्फ 1500 रुपए देने होंगे। कई कांबो ऑफर हैं जिनकी जानकारी यहां की आधिकारिक वेबसाइट www.jumpinheights.com से प्राप्त कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऊंचाई का रोमांच और बिल्कुल सेफ