DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश के लिए अखाड़े में उतरेगा जौनपुर का मल्ल

जौनपुर। रुद्र प्रताप सिंह। जिले के पहलवान बलिराम यादव का चयन भारतीय कुश्ती टीम में हो गया है। इसे महत्वपूर्ण उपलब्धि मानी जा रही है। झारखंड में हुए जूनियर नेशनल चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतने वाला यह मल्ल 20 अप्रैल से पुणे में आयोजित कैम्प में हिस्सा लेगा। ताइवान में आयोजित एशियन चैम्पियनशिप में उसने कांस्य पदक जीता था।

संप्रति, बलिराम यादव मुंबई के साई हॉस्टल में कुश्ती की बारीकियां सीख रहे हैं।बकौल बलिराम, जौनपुर में साई हॉस्टल सरीखी सुविधाएं हो जायें तो कई और पहलवान सामने आयेंगे। वे देश का मान-सम्मान बढ़ायेंगे। वह मानते हैं कि साई हॉस्टल में मिली ट्रेनिंग की बदौलत वह इस मुकाम तक पहुंचे हैं।

पिछले दिनों झारखंड में आयोजित जूनियर नेशनल चैम्पियनशिप के 55 किलोग्राम भारवर्ग में रजत पदक जीतकर बलिराम यादव ने साबित कर दिया है कि जौनपुर की मिट्टी में बहुत दम है। बक्शा ब्लॉक के उतरीजपुर गांव निवासी बसंतलाल यादव के पुत्र बलिराम यादव को बचपन से ही कुश्ती का शौक है।

पहले गांव के ही अखाड़े में वह जोर आजमाइश करते थे। इस बीच, उनका चयन मुंबई साई हॉस्टल में हो गया। गुरु जगमाल से कुश्ती के दांव सीखकर उन्होंने नेशनल स्कूल गेम में स्वर्ण पदक जीता। वर्ष 2005 में पंजाब के आनंदपुर में आयोजित राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने वाले बलिराम यादव ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

कोटयूपी में कुश्ती की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। लड़कों को मैच नहीं मिलता है। जौनपुर में साई हॉस्टल के लिए सांसद धनंजय सिंह से बात हुई है। अगर यह सुविधा मिले तो जिले में पहलवानों की अच्छी टीम तैयार हो जायेगी। बलिराम, कुश्ती चैम्पियन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश के लिए अखाड़े में उतरेगा जौनपुर का मल्ल