DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आदत बदलो

दिल्ली-एनसीआर में बाइक सवारों पर नजर दौड़ाइए। पुलिस वाले न दिख रहे हों या उनके होने की संभावना न हो, तो कई लोग हेल्मेट हाथ में लटकाए या सामने रखे दिख जाते हैं। युवाओं में यह आदत कुछ ज्यादा ही दिखती है। लगता है, हेल्मेट उनकी सुरक्षा के लिए नहीं, सिर्फ कानूनी औपचारिकता पूरी करने के लिए है। जिन दुर्घटनाओं में बाइक सवारों की जान जाती है, उनमें से अधिकांश की वजह हेल्मेट न पहनना या आईएसआई मार्का हेल्मेट न होना है। ऐसा भी नहीं है कि बाइक वाले यह बात नहीं जानते। फिर भी हेल्मेट पहनने में अपनी हेठी मानते हैं। यह जान के साथ खिलवाड़ के अलावा कुछ नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आदत बदलो