DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जूनियर इंजीनियर को पांच साल की कैद, 10 हजार का जुर्माना

बिहार के पथ निर्माण विभाग में करोड़ों रुपये के चर्चित अलकतरा घोटाले में से एक मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने मंगलवार को भागलपुर के सुल्तानगंज क्षेत्र के तत्कालीन जूनियर इंजीनियर को पांच वर्ष की जेल की सजा सुनाई और उसपर 10 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है।

भागलपुर जिले के सुल्तानगंज पथ प्रमंडल क्षेत्र में एक अगस्त 1995 से लेकर 16 सितंबर 1996 के बीच 3.70 लाख रुपये मूल्य के 80.9 मीट्रिक टन अलकतरा के गबन के एक मामले में सीबीआई न्यायाधीश बीएन सिंह ने तत्कालीन जूनियर इंजीनियर आनंदी प्रसाद अमित को पांच वर्ष की जेल सुनाई और 10 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया।

सीबीआई की विशेष अदालत ने बीते 30 मार्च को अमित को दोषी करार दिया था और सजा के बिंदु पर 10 अप्रैल तक फैसला सुरक्षित रखा था।

सीबीआई की विशेष अदालतों में वर्तमान में अलकतरा घोटाले के करीब 18 मामले अभी चल रहे हैं। इस चर्चित घोटाले में से पहला ऐसा मामला है जिसमें किसी को दोषी करार देकर सजा सुनाई गयी है। अमित के खिलाफ भागलपुर पथ प्रमंडल के तत्कालीन कार्यपालक अभियंता ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जूनियर इंजीनियर को पांच साल की कैद