DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनडीए/एनए परीक्षा: जज्बा है तो जुड़ें सेना से

एनडीए/एनए परीक्षा: जज्बा है तो जुड़ें सेना से

निरंजन 12वीं की परीक्षा दे रहा है। उसका लक्ष्य सेना में करियर बनाना है, पर वह नहीं जानता कि सेना के किस विंग के साथ जुड़ना चाहिए और उसमें प्रवेश की प्रक्रिया क्या है। निरंजन की इस समस्या को हमने करियर काउंसलर गीतांजलि कुमार के सामने रखा तो उन्होंने विस्तार से इसके  समस्त पहलुओं का खुलासा किया।

सैन्य सेवा में भविष्य तलाश रहे छात्रों के सामने एनडीए की परीक्षा एक सुनहरे अवसर के रूप में है। यह परीक्षा आर्मी, नेवी व एयरफोर्स, तीनों विंग के लिए आयोजित की जाती है। इसमें रिक्तियों की संख्या 335 (आर्मी 195, नेवी 39, एयरफोर्स 66 तथा नेवल एकेडमी की एग्जिक्यूटिव ब्रांच के लिए 35) है। यूपीएससी द्वारा आयोजित होने वाली इस परीक्षा में ऑनलाइन व ऑफलाइन, दोनों ही तरीकों से आवेदन किया जा सकता है। परीक्षा देश के 41 सेंटरों पर आयोजित की जाएगी।

दाखिले की पहली सीढ़ी
साल भर में दो बार (अप्रैल और अगस्त) आयोजित होने वाली इस परीक्षा के तीनों विंग में आवेदन की प्रक्रिया अलग-अलग होती है। एनडीए एयरफोर्स व नेवी में आवेदन करने के लिए वही उम्मीदवार योग्य हैं, जिन्होंने बारहवीं की परीक्षा फिजिक्स, कैमिस्ट्री व मैथ्स सहित पास की हो। आर्मी विंग के लिए बारहवीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। इस साल बारहवीं की परीक्षा में बैठने वाले छात्र भी आवेदन कर सकते हैं। एनडीए की परीक्षा बारहवीं की परीक्षा के बाद होती है।

हाल ही में बारहवीं की परीक्षा में बैठे छात्र इसका भरपूर फायदा उठा सकते हैं, क्योंकि उनका सेलेबस ताजातरीन याद किया हुआ होता है तथा पढ़ने की लय भी बनी होती है।

उम्मीदवार का अविवाहित होना जरूरी
एजुकेशनल क्वालिफिकेशन के अलावा इसमें उम्र सीमा का भी प्रावधान रखा गया है। साढ़े सोलह से 19 वर्ष की आयु सीमा वाले उम्मीदवार ही इस परीक्षा में बैठ सकते हैं। साथ ही इसमें रजिस्ट्रेशन के लिए उनका अविवाहित होना भी जरूरी है।

शारीरिक विवरण भी अहम
आवेदक की ऊंचाई के हिसाब से उनके वजन का आकलन किया जाता है। आर्मी व एयरफोर्स के लिए एक तरह का मानक तय किया गया है, जबकि नेवी के लिए अलग प्रावधान है। आर्मी व एयरफोर्स के लिए 152-183 सेंमी के लिए 42.5 किग्रा से 66.5 किग्रा के बीच वजन होना चाहिए, जबकि नेवी में 152-183 सेंमी  ऊंचाई वाले आवेदक का वजन 44 से 67 किग्रा के बीच होना चाहिए। आवेदक को 2.4 किमी की दूरी 15 मिनट में पूरी करनी होगी। उन्हें 20 बार उठक-बैठक भी करना होगा।

ऑनलाइन/ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया
इस प्रवेश परीक्षा में बैठने के लिए ऑनलाइन व ऑफलाइन, दोनों ही तरीकों से रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। यूपीएससी की वेबसाइट पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए उम्मीदवार को दो चरणों से होकर गुजरना पड़ता है। पहले चरण में जहां उन्हें अपना नाम, जन्मतिथि, पिता का नाम तथा एग्जाम सेंटर फिल करना होता है, वहीं दूसरे चरण में उन्हें फीस पेमेंट, फोटो व हस्ताक्षर अपलोड करना पड़ता है। फीस पेमेंट के लिए वे एसबीआई की किसी शाखा से निर्गत डीडी अथवा वीजा/मास्टर क्रेडिट/डेबिट कार्ड का प्रयोग कर सकते हैं। फोटो व हस्ताक्षर वाली फाइल का साइज 40 केबी से अधिक नहीं होना चाहिए और फाइल पीएनजी फॉर्मेट में होनी चाहिए।

दूसरी ओर, ऑफलाइन आवेदन में दिए गए गोलों को काला करने के लिए उम्मीदवार को एचबी पेंसिल का प्रयोग करना आवश्यक है और अन्य विवरण भरने के लिए वे ब्लैक अथवा ब्लू पेन का प्रयोग कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन व अधिक जानकारी के लिए निम्न वेबसाइट का सहारा लें-

www.upsconline.nic.in
www.upsc.gov.in
www.nda.nic.in

क्या बरतें सावधानी
फॉर्म भरने से पहले दिए गए निर्देशों को ध्यान से पढ़ें
ऑनलाइन मोड में विवरण सावधानी से भरें
आवेदन पत्र भेजने से पहले फोटोकॉपी अपने पास रखें
उम्र-सीमा का मिलान उम्मीदवार अवश्य करें
हमेशा वैध ईमेल आईडी का ही प्रयोग करें

परीक्षा दो चरणों में
एनडीए/नेवल एकेडमी परीक्षा दो चरणों (लिखित और इंटरव्यू) में आयोजित की जाती है। लिखित परीक्षा के अंतर्गत दो प्रश्नपत्र शामिल किए जाते हैं, जिनमें क्रमश: मैथमेटिक्स (300 अंक) व जनरल एबिलिटी (600 अंक) को शामिल किया जाता है। सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ होते हैं। इसका माध्यम हिन्दी व अंग्रेजी, दोनों होता है। एग्जाम स्ट्रक्चर के बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि जिन छात्रों की मैथ्स पर पकड़ अच्छी होती है और आत्मविश्वास मजबूत होता है, वे आसानी से इस परीक्षा को पास कर लेते हैं।

मैथमेटिक्स- यह पेपर 300 अंकों तथा ढाई घंटे का होता है। इसमें अंकगणित, त्रिकोणमिति, ज्यामिति, मेंसुरेशन तथा सांख्यिकी आदि पर प्रश्न आते हैं। इनका स्तर दसवीं से लेकर बारहवीं तक का होता है। प्रश्नों की संख्या 120 के करीब होती है।

जनरल एबिलिटी- इसमें पेपर के दो भाग होते हैं। पहला भाग अंग्रेजी (200 अंक) तथा दूसरा जनरल नॉलेज (400 अंक) का होता है। इन दोनों के लिए ढाई घंटे का समय निर्धारित होता है। अंग्रेजी के प्रश्न भाषा की समझ एवं शब्दों के प्रयोग पर आधारित होते हैं। इसमें मुहावरे, विलोम, समानार्थी आदि का प्रयोग किया जाता है।

बायोलॉजी में जहां डिजीज एंड कॉज, एनिमल किंगडम, प्लांट एनाटमी एंड माफरेलॉजी महत्वपूर्ण माने जाते हैं, वहीं कैमिस्ट्री में कैमिकल एनालिसिस, इनऑर्गेनिक कंपाउंड्स, पीरिऑडिक टेबल, कॉन्सेप्ट ऑफ फिजिकल कैमिस्ट्री, इक्वीलिब्रियम अहम है। इसी तरह से फिजिक्स में क्वांटम मैकेनिक्स, मैकेनिक्स, थर्मोडाइनेमिक्स, इलेक्ट्रोमैग्नेटिज्म से अधिक सवाल पूछे जाते हैं।

परीक्षा का शेडय़ूल
नोटिफिकेशन की तिथि: 5 मई 2012
रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि - 4 जून 2012
परीक्षा की तिथि- 19 अगस्त 2012
(ये तिथियां संभावित हैं। मई में आने वाले नोटिफिकेशन पर नजर रखें।)

काउंसलर कॉर्नर
जॉब सिक्योरिटी है इसमें

एनडीए एक ऐसा प्रोफेशन है, जिसमें जॉब का ग्राफ कभी नीचे नहीं गिरता। आर्थिक मंदी के दौर में भी यह क्षेत्र प्रभावित नहीं हुआ था। इसकी सबसे खास बात यह है कि इसमें कुछ कर गुजरने का जज्बा और देश प्रेम की भावना पनपती है। साथ ही स्थिरता, जॉब सिक्योरिटी व अन्य कई सरकारी सुविधाएं मिलती हैं। यहां तक कि सरकारी खर्चे पर स्कूल, हॉस्पिटल, आवास से लेकर कई तरह की बैंकिंग सुविधाएं मिलती हैं। इस क्षेत्र में आने वाले छात्रों से मैं यही कहूंगी कि वे दसवीं के बाद से ही अपनी तैयारी आरम्भ कर दें। वे पहले अपना लक्ष्य निर्धारित करें और फिर उसके हिसाब से अपनी तैयारी आरम्भ कर दें। फिजिकल की तैयारी भी उसी के साथ शुरू करना आवश्यक है। इसमें अंग्रेजी और मैथ पर उन्हें विशेष रूप से फोकस करना होगा।
-गीतांजलि कुमार, करियर काउंसलर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एनडीए/एनए परीक्षा: जज्बा है तो जुड़ें सेना से