DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजनाः तीन दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन

झारखंड के मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने सोमवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना की तीन दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस योजना से अधिक से अधिक लोगों को जोडे़ जाने की आवश्यकता है।

मुंडा ने यहां कहा कि प्रत्येक गरीब की वार्षिक स्वास्थ्य जांच होनी चाहिए। उनका डाटा बेस तैयार रहना चाहिए तभी राज्य के लोगों के स्वास्थ्य का वास्तविक आकलन हो सकेगा।  मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में सर्वप्रथम इस योजना की शुरुआत आन्ध्र प्रदेश में की गई। परन्तु इस योजना की सोच में झारखंड की महत्वपूर्ण भूमिका है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2004 में जिनेवा में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय श्रम संगठन की बैठक में इस तरह की योजना की आवश्यकता पर सर्वप्रथम उनके द्वारा विचार रखे गए थे ताकि समाजिक सुरक्षा के दायित्व को पूरा किया जा सके और इस योजना की शुरुआत केन्द्र सरकार के साथ की गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजनाः तीन दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन