DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैट्रिक परीक्षार्थियों का भाग्य का फैसला आज से

मैट्रिक परीक्षार्थियों की धड़कनें बढ़ने वाली है। मंगलवार से मैट्रिक कॉपियों की मूल्यांकन की प्रक्रिया शुरू होने वाली है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने कॉपियों के मूल्यांकन के लिए सारी तैयारी पूरी कर ली है। सभी जिलाधिकारी और जिलाशिक्षा पदाधिकारी को इस संबंध में निर्देश दिया जा चुका है।

सभी को मूल्यांकन केन्द्रों पर सख्ती बरतने का निर्देश दिया गया है। साथ ही मूल्यांकन केन्द्रों से पांच सौ गज की दूरी पर ही लोगों को रहना है। इसके आसपास रहने वाले अभिभावकों और लोगों की भीड़ पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है। मूल्यांकन के पहले शिक्षकों की एक दिवसीय कार्यशाला का भी आयोजन किया गया। इसमें शिक्षकों को मार्किग स्कीम की जानकारी दी गयी। राज्यभर के 25 हजार शिक्षक  कॉपियों का मूल्यांकन करेंगे, इस काम में सेवानिवृत शिक्षकों को भी लगाया गया है।

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष डॉ. राजमणी प्रसाद सिन्हा ने पहले ही हिदायत दे दी है कि मार्किग में नबंर न काटे जाएं। इस काम में कुछ सीबीएसई के शिक्षकों को भी लगाया गया है। कॉपियों की जांच सीबीएससी पैटर्न पर होगी। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के सचिव ललन झा ने बताया कि राज्यभर में 103 मूल्यांकन केन्द्र बनाया गया है। पटना जिले में 13 मूल्यांकन केन्द्र होंगे।

उन्होंने बताया कि मूल्यांकन केन्द्रों में लगाए गए शिक्षकों को आई कार्ड दिया जाएगा। इसके बिना प्रवेश वजिर्त होगा। इसके धांधली करने वाले शिक्षकों को ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा। साथ ही उनपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसकी जवाबदेही केन्द्रधीक्षक पर होगी। परीक्षा केन्द्रों पर किसी भी अभिभावक को पकड़े जाने पर उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैट्रिक परीक्षार्थियों का भाग्य का फैसला आज से