DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डकैतों ने परिवार को बंधक बनाकर लूटा

गांव सफीपुर के एक किसान और उसके चाचा के घर रविवार रात नौ बदमाशों ने दीवार फांदकर पूरे परिवार को बंधक बना लिया और लाखों का माल लूट लिया। बदमाशों ने पिस्टल दिखाकर पूरे परिवार को एक कमरे में बंद कर दिया और तीन घंटे तक सामान समेटते रहे। पुलिस ने डकैती की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गांव सफीपुर निवासी विश्वास त्यागी खेती करते हैं। इनका भाई मदन त्यागी तहसील में एक वकील के यहां मुंशी है। बताया गया है कि रविवार की रात लगभग 12 बजे नौ बदमाश दीवार फांदकर उनके मकान में घुस गए। ऊपरी मंजिल पर सो रही उनकी बहन और भतीजी को बदमाशों ने पिस्टल की नोक पर ले लिया और नीचे सो रहे विश्वास त्यागी और मदन त्यागी के पास ले गए। वहां पर दोनों भाइयों से बदमाशों ने एक रस्सी ली और पूरे परिवार को बंधक बनाकर एक कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद विश्वास त्यागी से बदमाशों ने अलमारी की चाबी ली और चार तोला के सोने के जेवरात और 35 हजार की नकदी एवं चांदी के जेवरात लूट लिए।

उसके बाद बदमाशों ने विश्वास त्यागी से उसके चाचा भीमसेन का दरवाजा खुलवाया। यहां भी बदमाशों ने परिजनों को बंधक बनाकर विश्वास त्यागी के मकान में बंद कर दिया। बदमाशों ने भीमसेन के घर से 15 तोला सोना और चांदी के जेवरात लूट लिए। अलमारी में पांच हजार रुपए की नकदी भी बदमाश ले गए। जाते समय बदमाश भीमसैन और विश्वास त्यागी को भी एक कमरे में बंद कर गए। सुबह तीन बजे बदमाशों के जाने के बाद विश्वास किसी तरह बाहर आया पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मामले की जांच की। पुलिस ने विश्वास की तहरीर पर डकैती की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

खाना खाने के बाद गए बदमाश
विश्वास का कहना है कि दोनों घरों का सामान कब्जे में करने के बाद बदमाशों ने यहां खाना खाया। रोटी कम पड़ गई तो परिवार की महिलाओं से रोटियां बनवाई। उसके बाद बदमाश उन्हें कमरे में बंद करके चले गए।

डॉग स्क्वॉड रहा फेल
वारदात के खुलासे के लिए पुलिस ने डॉग स्क्वॉड और फिंगर प्रिंट टीम की मदद ली। लेकिन टीम का कुत्ता कुछ ही दूरी पर घूमने के बाद वापस घर में लौट जाता था। फिंगर प्रिंट टीम ने दोनों घरों से कुछ नमूने लिए हैं।

बच्चों में दहशत व्याप्त
जिस समय बदमाशों ने परिवार की महिलाओं को बांधना शुरू किया तो परिवार के बच्चाे भी नींद से जाग गए और रोने लगे। बदमाशों ने बच्चाों को इस तरह डराया कि वह फिर नहीं बोले। बच्चे अभी भी सहमे हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डकैतों ने परिवार को बंधक बनाकर लूटा