DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदिर से गायब मासूम आगरा में मिला

फिरोजाबाद, वरिष्ठ संवाददाता

 

तीन साल का मासूम शिवम अपने परिजनों के साथ कैला देवी के दर्शन करने के लिए आया था। यहां से शिवम अचानक गायब हो गया। परिजनों ने खूब तलाश की लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। पुलिस में गुमशुदगी दर्ज करा दी और चाइल्ड लाइन का लगातार सहयोग लेते रहे। छह दिन बाद बालक का आगरा में रिश्तेदारों ने अखबारों में फोटो देखा तो परिजनों को सूचना दी। शिवम तो परिजनों को मिल गया, लेकिन सवाल उठ रहा है कि आखिर तीन साल का मासूम आगरा तक कैसे पहुंचा। एक अप्रैल को गब्बर सिंह निवासी बरगदपुर थाना रसूलपुर अपने परिजनों के साथ कैला देवी मंदिर में दर्शन करने के लिए आया था। उनके साथ तीन साल का शिवम भी था। नवमीं की भीड़ में अचानक शिवम गायब हो गया। उसकी काफी तलाश की लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। हारकर परिजनों ने थाना उत्तर में दो अप्रैल को गुमशुदगी दर्ज करा दी और चाइल्ड लाइन के संपर्क में आ गए। चाइल्ड लाइन प्रभारी जफर आलम ने जनपद के थानों में शिवम के गायब होने की सूचना भिजवा दी। परिजनों ने रिश्तेदारियों में भी शिवम के गायब होने की सूचना दे दी गई। सात अप्रैल को अचानक गब्बर के आगरा में रहने वाले रिश्तेदारों ने फोन पर सूचना दी कि एक बच्चों का फोटो वहां अखबारों में प्रकाशित हुआ है। थाना सदर आगरा पुलिस की चौकी पर बालक के होने की सूचना पर परिजन पहुंचे तो शिवम को पहचान लिया। परिजन आश्चर्य में पड़ गए कि आखिर इतना छोटा बच्चाा आगरा तक कैसे पहुंचा। आगरा निवासी कामरेड संतोष कुमार को शिवम लावारिस हालत में सदर थाना क्षेत्र में मिला था। चाइल्ड लाइन के सहयोग से शिवम को फिरोजाबाद लाया गया और फिर आवश्यक कार्यवाही के बाद शिवम को परिजनों को सौंप दिया। तीन साल का शिवम कैसे पहुंचा आगराफिरोजाबाद। तीन साल का मासूम शिवम आगरा कैसे पहुंचा, इसका जवाब न तो पुलिस के पास है और न चाइल्ड लाइन के। आशंका जताई जा रही है कि कोई इस मासूम को लेकर आगरा तक चला गया और फिर खुद को फंसता देख छोड़कर भाग गया होगा।

चाइल्ड लाइन के प्रभारी जफर आलम ने कहा कि लगातार शहर से बच्चों गायब हो रहे हैं। शिवम को भी कोई यहां से उठाकर ले गया होगा। उन्होंने एसपी से इस मामले में गंभीरता से जांच कराने की मांग की है। शारदा की खुशी का ठिकाना नहीं रहाफिरोजाबाद। छह दिन तक मासूम शिवम के गायब रहने के बाद शारदा बिल्कुल टूट गई थी। उसे आशा नहीं थी कि शिवम ठीकठाक हालत में मिलेगा। पूरे परिवार के लोग उसे रोने से रोकते लेकिन शिवम की याद में सब परेशान थे। शारदा बोली कि भगवान ने उसकी सुन ली और उसका बेटा उसको मिल गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंदिर से गायब मासूम आगरा में मिला