DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहले ट्रेलर था अब हुए रियल एक्शन

नगर निगम ने रविवार को अवैध निर्माण पर कार्रवाई की। इस दौरान टीम ने शहर के छह जगहों पर अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। लेकिन, एक्शन के दौरान पहले जैसा तामझम इस बार नहीं दिखा।

अवैध निर्माण को लेकर किरकिरी ङोल रहे निगम ने रविवार को कुछेक अवैध निर्माण पर अपना पीला पंजा चलाया। इस दौरान न्यू कॉलोनी, बस स्टैंड और ओल्ड डीएलएफ में अवैध निर्माण गिराए गए। अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई के दौरान डयूटी मजिस्ट्रेट संयुक्त आयुक्त-एक वीना हुड्डा, संयुक्त आयुक्त-सेकेंड केके गुप्ता मुख्य अभियंता बीएस सिंगरोहा व उपमण्डल अभियंता अभिनव वर्मा शामिल थे। टीम सुबह सात बजे ही न्यू कॉलोनी मोड पर बन रहे अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। यह प्रॉपटी निर्मल कुमारी, मधु बत्र, धनपत राय, सीमा छाबड़ा, मनोज पाहुजा व संजय कथूरिया के नाम पर है। इसके बाद लेडी फातिमा स्कूल के पास बने अवैध निर्माण को भी दस्ते ने आगे से ध्वस्त कर दिया। बाद में दस्ता बस स्टैंड रोड पर विवेक सैनी व संजय ठाकुर द्वारा बनाये जा रहे अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। ओल्ड डीएलएफ में कल्याणी अस्पाताल के पास सुरेश आहूजा द्वारा हजार गज में बनाये जा रहे अवैध निर्माण भी गिरा दिया गया।

गौरतलब है कि कुछ माह पहले निगम ने न्यू कॉलोनी मोड़ पर एक अवैध निर्माण को गिराने के लिए चार सौ जवान,सौ निगम के लोग, आधा दजर्न जेसीजी मशीनें, पॉकलैंड मशीनों के साथ चार घंटे ड्रामा चला था। बताया जा रहा है कि इसमें एक भवन सीनियर डिप्टी मेयर यशपाल बत्र के करीबी की भी है। लेकिन, निर्माणकर्ता ने खुद तोड़ने का हलफनामा दिया था। इस समय इस भवन को नहीं तोड़ा गया था। इसे इसके मालिकों ने पहले से तोड़वा लिया था।

लेकिन,रविवार सुबह पूरा दस्ता इस अवैध भवन पर पहुंचा और कुछ भाग को तोड़ दिया। इससे कयास लगाया जा रहा है कि एक पूरी एक रणनीति के तहत किया गया। जब सुबह लोग उड़े तो जेसीबी तेाड़फोड़ कर रही थी। न्यू कॉलोनी मोड़ के एक भवन पर कोर्ट से स्टे होना बताया जा रहा है।

विजिलेंस जांच कर रही है-
अवैध निर्माण को लेकर महेन्द्र शेखावत की शिकायत पर विजिलेंस मामले की जांच कर रही है। टीम ने इस मामले में संबंधित अधिकारियों से पूछताछ की गई है। आरोप है कि निगम अधिकारियों ने गलत तरीके से एयरफोर्स के 900 मीटर में निर्माण कराया है। इसमें कई नेताओं व अन्य प्रभावशाली लोगों के निर्माण हुए हैं।

तोड़फोड़ को दुर्भाग्यपूर्ण बताया-

कांग्रेस पार्टी के शहरी जिला अध्यक्ष जीएल शर्मा ने तोड़तोफ को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उनका कहना है कि कांग्रेस का हाथ हमेशा गरीबों के साथ रहा है। लेकिन, निगम अधिकारियों की वजह से कांग्रेस पार्टी के साथ सरकार की छवि को खराब किया जा रहा है। उन्होंने इस मामले में अधिकारियों को इस मामले में पारदर्शी रुप अपनना चाहिए था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पहले ट्रेलर था अब हुए रियल एक्शन