DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक डकैती में पकड़े गए लखनऊ के दो शातिर

मलवां थाना क्षेत्र के सौंरा हाईवे पर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में पड़ी डकै ती में पुलिस कप्तान आरके चतरुवेदी ने रविवार को दो आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ पर्दाफाश होने का दावा किया है। पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से लूटे गए 20 हजार रुपए भी बरामद हुए हैं। वारदात में शामिल गैंग लीडर समेत एक अन्य आरोपी पुलिस की पकड़ से फिलहाल दूर हैं।

पुलिस लाइन में एसपी ने बताया कि चार दिन पूर्व सौंरा के बैंक ऑफ बड़ौदा में दिन दहाड़ेकरीब आधा दजर्न बदमाशों ने धावा बोलकर बैंक कर्मियों को स्टोर रूम में बंदकर कैश काउंटर से एक लाख तीस हजार एक सौ बीस रुपए लूट लिए थे। पहले बार बैंक मैनेजर ने सवा तीन लाख रुपए लूटे जाने की तहरीर पुलिस को दी थी। कैश मिलान के बाद तहरीर को बदलते हुए एक लाख तीस हजार एक सौ बीस रुपए लूट जाने की बात साफ हो गई थी।
बकौल एसपी डकैतों की सुरागरशी में पता चला कि शनिवार को आरोपी मलवां थाना क्षेत्र में दोबारा घटना को अंजाम देने जा रहे हैं। इस सूचना पर एसओजी व मलवां पुलिस ने बैंक डकैती में शामिल रहे दो आरोपियों को धर लिया। गिरफ्तारी के दौरान मौके से वारदात का मास्टर माइंड भाग निकला। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। उन्होंने दावा किया कि पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से बैंक से लूटी गईं 100 रुपए की दो की गड्डियां बरामद हुई हैं।
 
 
इनसेट
पकड़े गए गदमाश
 पंकज मिश्र पुत्र सोमदत्त मिश्र निवासी आलमबाग, लखनऊ
 धीरज तिवारी पुत्र राजकुमार निवासी आलमबाग, लखनऊ
भाग निकले बदमाश
 विपिन सिंह पुत्र सोमेन्द्र सिंह (गैंग लीडर) करौत जहानगंज, आजमगढ़
 आशीष पुत्र हरि प्रकाश निवासी करौत जहानगंज, आजमगढ़
 
 

 
 
 
इनसेट
गैंग के सदस्य लूट और मारधाड़ में अव्वल
फतेहपुर। बैंक डकैती में सामने आए गैंग पर लूट के लखनऊ व अन्य कई जनपदों में मुकदमे दर्ज हैं। जिले की पुलिस ने एक साल पहले गैंगेस्टर की भी कार्रवाई की जा चुकी है। दरअसल इन बदमाशों ने एक अखबार के दफ्तार पर हमला किया था। शहर में लूट की वारदातों को भी अंजाम दिया है। 
 
इनसेट
डकैती में आ सकते कई और नाम सामने
फतेहपुर। एसपी ने बताया कि मामले का पूरा पर्दाफाश करने में टीमें जुटी हैं। घटना में कुछ क्षेत्रीय लोगों के भी हाथ हो सक ते हैं। वारदात के दौरान करीब आधा दजर्न लोगों के बात सामने आई थी। इसमें चार ही सामने आ सके हैं।अन्य बदमाशों को भी दबोचा जाएगा।
 
 
इनसेट
क्षेत्रीय युवक के जरिए खुली घटना
फतेहपुर। पुलिस सूत्रों की माने तों पुलिस ने मलवां थाना क्षेत्र के ऐसे युवक को वारदात के सिलसिले में उठाया था। इस युवक का कहीं न कहीं घटना में हाथ था। इसी युवक के जरिए मामला उजागर हो सका है। दरअसल इसी युवक ने  बैंक में डकैती के बाद गांव में शराब के नशे में झगड़ा कर लिया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे दबोच लिया और पूछताछ में बैंक डकैती से जुड़ा सुराग पुलिस के  हाथ लग गया और आरोपियों के नाम सामने आ गए।
 
इनसेट
इस टीम ने किया वर्कआउट
फतेहपुर। डकैती की वारदात का खुलासा करने में एसओजी प्रभारी राजेन्द्र सिंह, मुरली सिंह, संजीव कुमार, मलवां एसओ जेपी यादव, एसआई वीएन तिवारी, अजीत सिंह, भूपेन्द्र सिंह की सक्रिय भूमिका रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंक डकैती में पकड़े गए लखनऊ के दो शातिर