DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षा विभाग करेगा एससी-एसटी स्कूलों का संचालन

अनुसूचित जाति एवं जनजाति आवासीय विद्यालयों और पिछड़ा वर्ग के स्कूलों का संचालन अब शिक्षा विभाग करेगा। अब तक इन स्कूलों का संचालन अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण विभाग करता था। सूबे में अभी एससी-एसटी कल्याण आवासीय स्कूलों की संख्या 80 है। इसके अलावा पिछड़ा वर्ग के 12 आवासीय स्कूल हैं, जिनकी बागडोर जल्द ही शिक्षा विभाग को सौंप दी जाएगी। 

शिक्षा विभाग इन स्कूलों के संचालन के लिए एक खास सोसायटी का गठन करने की तैयारी कर रहा है। इसके तहत सभी स्कूलों की देखरेख की जाएगी। करीब एक महीने में सोसायटी के गठन का काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद इस आशय का प्रस्ताव कैबिनेट में पास होने के लिए जाएगा।

कैबिनेट से मंजूरी मिलते ही इन स्कूलों के प्रबंधन और संचालन के सभी दायित्व सोसायटी को मिल जाएंगे। शिक्षा विभाग के प्रवक्ता आरएस सिंह के अनुसार, इस सोसायटी के गठन की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। गठन पर अंतिम फैसला होने के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि इसमें कितने सदस्य होंगे और सदस्य के तौर पर किन लोगों को रखा जाएगा।

हो सकेगा इन स्कूलों का बेहतर प्रबंधन
अधिकांश अनुसूचित जाति एवं जनजाति कल्याण विद्यालयों में व्यवस्था में गड़बड़ी की शिकायतें रहती हैं। हाल में विधान मंडल में अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के स्कूल हर प्रखंड में खोलने की मांग कई सदस्यों ने उठायी थी। साथ ही इन स्कूलों में सीटें बढ़ाने की भी मांग चल रही है।

इन तमाम मसलों के मद्देनजर इन स्कूलों को एक खास सोसायटी के तहत संचालित करने का निर्णय लिया गया है। इससे इनका प्रबंधन बेहतर होने के अलावा बच्चों को सुविधाएं ज्यादा मिलेंगी। इन स्कूलों की बेहतरी के लिए नीतिगत निर्णयों पर आसानी से आम सहमति बन पाएगी। सभी जरूरी सुविधाएं भी आसानी से मुहैया हो सकेंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिक्षा विभाग करेगा एससी-एसटी स्कूलों का संचालन