DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की जांच करेगा जीडीए

गाजियाबाद। गाजियाबाद में गिरते वाटर लेबिल की रोकथाम के लिए जीडीए ने तीन सौ मीटर से अधिक क्षेत्रफल वाले भूखंड़ों की जांच करने का फैसला लिया है। यह जांच एक जून के बाद शुरू की जाएगी। जीडीए उपाध्यक्ष संतोष यादव ने बताया कि भूमिगत जलस्तर के लिए रूपटॉप वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की व्यवस्था है। तीन सौ मीटर से अधिक क्षेत्रफल वाले आवासीय भूखंड, ग्रुप हाउसिंग और सामुदायिक भू-उपयोग में नक्शे की समय यह शर्त है।

उचित रख-रखाव में चैंबर सिल्ट हो जाता है और प्रणाली काम करना बंद कर देती है। सभी भवन स्वामी अपने यहां एक जून तक इस प्रणाली को दुरुस्त करा लें। इसके बाद प्राधिकरण के तकनीकी अधिकारी जांच करेंगे और गड़बड़ी पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की जांच करेगा जीडीए