DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इजराइली तकनीक पर बनेगी निगम की नर्सरी

नगर निगम की बनने वाली प्लांट नर्सरी में इजराइली तकनीक का प्रयोग किया जाएगा। इसमें ग्राउंड वाटर के बजाय बरसाती पानी का पूरी तहर से प्रयोग किया जाएगा। यहां पर विकसित होने वाले पौधे की सूक्ष्म तकनीक (माइक्रो इरिगेशिन) से सिंचाई की जाएगी। इससे 90 प्रतिशत पानी की बचत की जा सकेगी।


साइबर सिटी को ग्रीन और सुन्दर बनाने लिए नगर निगम हार्टिकल्चर विंग अपनी नर्सरी विकसीत करेगा। इसके लिए खेड़कीदौला में आठ एकड़ जमीन पर शनिवार से विविधत रुप से काम शुरु कर दिया गया है। इसका शुभारंभ एसडीओ हेड क्वॉटर दीन मुहम्मद ने किया। उन्होंने  बताया कि नर्सरी को कई मामलों में अन्य नर्सरियों से अलग बनाया जा रहा है। इस नर्सरी की यह विशेषता होगी कि इसमें ग्राउंड वाटर का प्रयोग ना के बराबर किया जाएगा। इसके लिए नर्सरी में एक विशेष टैंक बनाया जाएगा। जहां पर बरसाती पानी को इकठ्ठा किया जाएगा। बाद में इसे माइक्रो तकनीक से पौधे की सिचाई की जाएगी। डी मुहम्मद ने बताया कि पहले बाउंड्री वाल को तैयार किया जाएगा। इसके बाद स्टोर रुम, ऑफिर रुम, उपकरण स्टोर, ट्यूवेल और इंटरनल पथ को तैयार किया जाएगा। एसडीओ ने बताया कि इस नर्सरी को एक रोल मॉडल के तौर पर विकसीत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इजराइल में अक्सर पानी खरा होने के कारण माइक्रो तकनीक का प्रयोग करते है। इससे 90 प्रतिशत पानी की बचत की जाती है।

गौरतलब है कि निगम की अभी तक अपनी कोई पौधों की नर्सरी नहीं हैं। निगम को अपने क्षेत्र में प्लांटेशन व पार्को के रख रखाव में काफी दिक्कतें होती हैं। इसके लिए निगम को वन विभाग से पौधे लेने पड़ते हैं। इससे कई बार निगम को मनचाहे पौधे नहीं मिल पाते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए निगम नर्सरी बनाने जा रहा है। निगम कमिश्नर सुधीर राजपाल के निर्देश पर एसडीओ मुख्यालय डी. मुहम्मद ने निगम क्षेत्र में कई जगहों पर जमीन का मु़आयाना था। इसके बाद खेड़कीदौला में इसे विकसीत किया जा रहा है।

हर तरह के पौधे होंगे-
नर्सरी में सभी प्रकार के पौधे तैयार किए जाएंगे। इसमें फलदार के अलावा सजावटी और फूलदार सहित अन्य प्रकार के होंगे। इसके साथ ही इसमें अग्रेजी पौधे के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। नर्सरी में वर्मी काम्पोस्ट, पॉली हाउस, नेट हाउस, प्लांट हाडर्निग, मिट्टी की जांच व स्टेराइजिंग करना शामिल है।

क्या होगा फायदा-
-गमले में सुन्दर पौधे तैयार किए जाएगे
-प्लॉटेशन के लिए पौधा होगा तैयार
-पार्कां में पौधारोपण में मिलेगी सहूलियतें
-इससे पौधों के लिए निगम को वन विभाग नहीं जाना पड़ेगा
-निगम में 70 पार्क हैं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इजराइली तकनीक पर बनेगी निगम की नर्सरी