DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्मशान में जी उठी नवजात बच्ची

राजस्थान के कोटा के एक निजी नर्सिंग होम के चिकित्सकों द्वारा एक नवजात को मृत घोषित किये जाने के बाद श्मशान में उसकी धड़कन फिर से चलने लगी। परिजन नवजात को श्मशान ले गये थे, लेकिन दफनाने से ठीक पहले फिर उसकी धडकन चलने लगी और परिजन उसे लेकर फिर से जिला अस्पताल पहुंच गये।

निजी नर्सिंग होम संचालक ने माना कि नर्सिंग कर्मचारी ने शिशु में सांसे नहीं देखकर परिजनों को सौंप दिया था लेकिन बाद में उसकी सांसे फिर से चलने लगी। नर्सिंग होम सूत्रों के अनुसार अमित कुमार की पत्नी रेणु ने शुक्रवार को नवजात बच्ची को जन्म दिया था। उसका वजन काफी कम था और उसका शरीर नीला पडा हुआ था। उन्होंने बताया कि जन्म के समय नवजात बच्ची के सांस नहीं लेने के कारण यह स्थिति बनी।

इधर परिजनों के अनुसार परिजन नवजात को दफनाने की तैयारी कर रहे थे उसी दौरान नवजात के हाथ पांव में हलचल देखकर उसे नजदीकी निजी अस्पताल ले गये जहां देर शाम तक धडकन चल रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्मशान में जी उठी नवजात बच्ची