DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दोस्त ने एक करोड़ की फिरौती के लिए ली जान

दोस्त सुख-दुख में मददगार होते हैं, मगर यहां पैसे के लालच में अपना ही साथी जान का दुश्मन बन गया। जी हां, दिल्ली में शुक्रवार को एक ऐसा ही वाकया सामने आया। पश्चिम विहार के इंजीनियर की उसी के दोस्त ने एक करोड़ रुपये की फिरौती के लिए अगवा करने के बाद हत्या कर दी।

पुलिस ने हत्या के आरोप में उसके एक करीबी दोस्त समेत तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। मृतक की पहचान 23 वर्षीय जॉनी गुप्ता के रूप में की गई है। हत्या के आरोपी अनूप, अनिल और अविनाश की निशानदेही पर पुलिस ने कमरुद्दीन नगर के एक प्लॉट की खुदाई की, जहां से जॉनी का शव बरामद किया गया। शव पर काफी नमक डाला गया था, ताकि वह जल्दी गल जाए।

संयुक्त आयुक्त आर. एस कृष्णैया ने बताया, तीन अप्रैल की रात 11.35 बजे पश्चिम विहार निवासी रविंद्र गुप्ता ने अपने बेटे जॉनी की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया था कि मॉडल टाउन में डय़ूटी कर रहा उनका बेटा घर नहीं लौटा है। मौके पर पीसीआर पहुंची तो उनके सामने ही रविंद्र को फोन आया और एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई। इसकी भनक पुलिस या मीडिया को न लगने की भी धमकी दी गई।

छानबीन में पुलिस को पता चला कि आखिरी बार जॉनी को लॉरेंस रोड पर अशोक नाम के उसके दोस्त ने देखा था। फिर जॉनी पंजाबी बाग में अनूप से मिला था। पूछताछ में अनूप ने बताया कि उसने अनिल और अविनाश के साथ मिलकर जॉनी को अगवा कर उसकी हत्या की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दोस्त ने एक करोड़ की फिरौती के लिए ली जान