DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैं ठगा महसूस कर रहा: सुभाष घई

मैं ठगा महसूस कर रहा: सुभाष घई

अपनी फिल्म अकादमी को भूमि का आवंटन रद्द करने वाले दो न्यायालयों के फैसलों के बाद फिल्म निर्माता सुभाष घई ने शुक्रवार को कहा कि वह महाराष्ट्र सरकार द्वारा ठगा महसूस कर रहे हैं।

घई ने एक बयान में कहा, ''फिल्म अकादमी ह्विसलिंग वुड्स इंटरनेशनल की स्थापना 75 करोड़ रुपये की लागत से करने के 10 वर्ष बाद जब हमें यह बताया जाता है कि हमारा संयुक्त उपक्रम समझौता वैध नहीं है। इस पर मैं महाराष्ट्र सरकार द्वारा ठगा महसूस कर रहा हूं।''

उन्होंने कहा कि भूमि का आवंटन रद्द करने के पीछे जो कारण बताया गया है वह यह है कि सरकार की एक भूल की वजह से एक बोर्ड का प्रस्ताव पारित नहीं हुआ और भूमि की कीमत कम आंकी गई।

घई ने कहा, ''हमारी क्या गलती है? उन्होंने ह्विसलिंग वुड्स लिमिटेड में भागीदारी रखने के लिए तत्कालीन एमडी, सांस्कृतिक सचिव एवं संस्कृति मंत्री द्वारा हस्ताक्षरित एक करार हमें सौंपा और हमने इस उपक्रम के साथ शुरुआत करते हुए 20 करोड़ रुपये का निवेश किया।''

ज्ञात हो कि सर्वोच्च न्यायालय ने बुधवार को अपने फैसले में घई की स्वामित्व वाली मुक्ता आर्ट्स लिमिटेड की अपील खारिज कर दी। घई ने भूमि का आवंटन रद्द करने वाले बम्बई उच्च न्यायालय के फैसले को सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी थी।

बम्बई उच्च न्यायालय ने घई की फिल्म अकादमी के लिए गोरेगांव पूर्व में 2० एकड़ भूमिका आवंटन निरस्त कर दिया था।

इस बीच, घई के समर्थन में प्रख्यात फिल्म निर्माता शेखर कपूर भी उतर आए। उन्होंने कहा कि फिल्म की पढ़ाई का एक केंद्र बनाने के लिए घई ने 15 वर्ष तक समय एवं ऊर्जा खर्च की।

कपूर ने कहा, ''ह्विसलिंग वुड्स इंटरनेशनल कोई घोटाला नहीं है। उनकी प्रशंसा होनी चाहिए। भूमि की मौजूदा ऊंची कीमतों में किसी शहर में शैक्षिक संस्थान का निर्माण करना सम्भव नहीं है और सरकार को इसके लिए भूमि का आवंटन करना है।''

वहीं, प्रसिद्ध फिल्म निर्माता श्याम बेनेगल ने कहा कि न्यायालय के फैसले से वह काफी निराश हैं। घई ने एक विश्व स्तरीय फिल्म संस्थान बनाने के लिए इसे अपने जीवन के मिशन के रूप में लिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैं ठगा महसूस कर रहा हूं: सुभाष घई