DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में जल संकट नहीं स्वास्थ्य मंत्री

बिहार के लोक स्वास्थ्य एवं अभियंत्रण मंत्री चन्द्र मोहन राय ने शुक्रवार को कहा कि राज्य में कोई जल संकट नहीं है और यदि ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई तो सरकार ठोस कदम उठाएगी। राय ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है और इसके लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि बिहार के करीब 2500 गांवों में लोगों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए पिछले वर्ष जल मीनारों का निर्माण कराया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों की लंबित परियोजनाओं को भी शीघ्र पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है।

लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री ने कहा कि समस्तीपुर जिले के दियारा क्षेत्र में रहने वाले लोगों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 112 करोड़
रूपए की लागत से एक महत्वाकांक्षी योजना तैयार की गई है। गंगा नदी से लगे जिले के पटौरी, मोहिउद्दीननगर और मोहनपुर प्रखंड के 67 गांवों को इस योजना से जोड़ा जा रहा है ताकि उन्हें पाइप लाइन के माध्यम से शुद्ध पेयजल मुहैया कराया जा सके। उन्होंने कहा कि जिले के कई गांवों के पानी में आर्सेनिक पाया गया है जिसे साफ करने के लिए धमौन के निकट वाटर ट्रिटमेंट यूनिट लगाया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में जल संकट नहीं स्वास्थ्य मंत्री