DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी सरकार नए राज्य चुनाव आयुक्त की तलाश में

उत्तर प्रदेश राज्य चुनाव आयोग अगले दो तीन महीने में निकाय चुनाव कराने के लिए तैयार है लेकिन उससे पहले आयोग के आयुक्त पद के लिए नई तैनाती की दौड़ शुरु हो गई है। आयोग के आयुक्त राजेन्द्र भौनवाल द्वारा चार अप्रैल को पद छोड़ देने के बाद राज्य सरकार किसी सेवानिवृत्त भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी की तलाश में है। जिसे जल्द से जल्द नया चुनाव आयुक्त नियुक्त किया जा सके।
 
सेवानिवृत्त आई.ए.एस. अधिकारी भौनवाल पिछली मायावती सरकार द्वारा एक जून 2007 को नियुक्त किए गए थे। आयुक्त का कार्यकाल पांच वर्ष अथवा 65 वर्ष की आयु होने तक होता है। पांच अप्रैल को 65 वर्ष की आयु पूरी होने से एक दिन पहले चार अप्रैल को ही उन्होंने यह पद छोड़ दिया। नगर निकाय के चुनाव के मद्देनजर राज्य सरकार को जल्द ही राज्य चुनाव आयुक्त की तैनाती करनी है।

राज्य चुनाव आयुक्त पद की दौड़ में तीन अवकाश प्राप्त आईएएस अधिकारी सतीश कुमार अग्रवाल, जय शंकर मिश्र तथा गंगादीन यादव अग्रणी माने जा रहे हैं।
 
वर्ष 1974 बैच के आई.ए.एस. अधिकारी अग्रवाल समाजवादी पार्टी (सपा) से अपनी नजदीकियों के कारण इस पद के प्रमुख दावेदार हैं। वह सपा की पिछली सरकार में प्रमुख सचिव गृह तथा सार्वजनिक निर्माण विभाग थे। वर्ष 2007 में मायावती सरकार आते ही उन्हें निलंबित कर दिया गया था और उनकी बहाली दो वर्ष बाद ही हो सकी थी। वह 2011 में सेवा निवृत्त हो गए थे।
 
केन्द्र सरकार में खादी ग्रामोद्योग के अध्यक्ष रहे 1980 बैच के जय शंकर मिश्र 31 मार्च को ही सेवानिवृत हुए हैं। उनका पुत्र अभिषेक मिश्र प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सम्बद्ध राज्य मंत्री हैं और सरकार में काफी महत्वपूर्ण स्थिति में समझा जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी सरकार नए राज्य चुनाव आयुक्त की तलाश में