DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अन्ना का नया नारा, 'लोकपाल लाओ नहीं तो जाओ'

समाजसेवी अन्ना हजारे एक बार फिर लोकपाल बिल के लिए आंदोलन करने वाले हैं। उनका नया स्लोगन होगा 'लोकपाल लाओ नहीं तो जाओ'। उनका यह आंदोलन 2014 लोकसभा चुनाव तक जारी रहेगा।

अन्ना हजारे ने रालेगण सिद्धी में कहा कि मई में संसद का सेशन खत्म होने तक हम बिल के पास होने का इंतजार करेंगे। अगर ऐसा नहीं हुआ तो अगले आम चुनाव होने में डेढ़ साल बचा है।

उन्होंने राजधानी दिल्ली में भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने आंदोलन का एक साल पूरा होने पर पत्रकारों से कहा कि 2014 के आम चुनाव घोषित होने पर मैं 'लोकपाल लाओ नहीं तो जाओ' के नारे के साथ रामलीला मैदान में अनशन पर बैठूंगा। जैसे ही मैं अपना आंदोलन शुरू करूंगा, लोग तिरंगा लेकर मेरे साथ आना शुरू कर देंगे।

हजारे ने आरोप लगाया कि सरकार फिलहाल जन लोकपाल बिल के मुद्दे पर समय काट रही है क्योंकि अभी कोई चुनाव नहीं होना है। उन्होंने कहा कि सरकार पहले भी जॉइंट कमिटी बनाने के लिए इसलिए राजी हो गई थी क्योंकि उस समय पांच राज्यों के चुनाव करीब थे।

हालांकि, बाद में प्रधानमंत्री ने अपना स्टैंड बदल लिया था और सरकार भी संसद में बिल पास कराने में नाकाम हो गई थी। हजारे ने कहा कि वह लोकपाल बिल के लिए समर्थन जुटाने के लिए पूरे देश की यात्रा करेंगे। उन्होंने कहा कि उनका कैंपेन किसी एक पार्टी के खिलाफ नहीं होगा, लेकिन वे वोटरों से अपील करेंगे कि उन लोगों को वोट न दें जो जन लोकपाल बिल का विरोध कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अन्ना का नया नारा, 'लोकपाल लाओ नहीं तो जाओ'