DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पात्रता सूची पर महिलाओं का हंगामा

कांशीराम अवासीय योजना में फर्जी तरीके से आवासों के आवंटन के मामले की जांच अभी चल ही रही थी कि गुरुवार को प्रशासन ने बाकी बचे 233 आवासों के लिए आवेदन करने वाले पात्रों की सूची जारी कर दी।

जानकारी पर पहुंची महिलाओं ने डीएम कार्यालय पर चस्पा सूची में अपना नाम गायब देख हंगामा किया। आरोप लगाया कि जांच अधिकारियों ने जान-बूझकर उन्हें अपात्र घोषित कर दिया है। अवकाश के कारण किसी अफसर के नहीं होने से महिलाएं यह कहते हुए वापस लौट गई कि सोमवार को डीएम का घेराव किया जायेगा।

कांशीराम अवासीय योजना के दूसरे फेज में 15 सौ आवास बने हैं। इनमें 233 का आवंटन होना बाकी है। प्रशासन ने इसके लिए आवेदन मांगे थे। जिसके लिए लगभग तीन हजार से अधिक लोगों ने आवेदन भरा था। इसके लिए बकायदे आय व जाति के साथ गरीबी रेखा से नीचे का प्रमाणपत्र लगाये थे।

आवेदनों की जांच तहसील व नगर निगम स्तर पर करायी गई थी। जांच के बाद एक हजार लोगों को आवासों के लिए पात्र पाया गया। प्रशासन ने अवकाश के बावजूद सूची डीएम आफिस पर चस्पा कर दी। चर्चा है कि प्रशासन को सूची जारी होने पर हंगामे की आशंका पहले से थी इसीलिए सूची अवकाश के दौरान जारी की गई।

प्रशासन को आशंका थी कि सूची चस्पा होने पर लोग हंगामा कर सकते हैं। लिहाजा, यह जानते हुए प्रशासन ने अवकाश के दिन सूची जारी की। जिससे लोग हंगामा या शिकायत न कर सकें। बता दें कि शुक्रवार को गुड फ्राइडे, शनिवार व रविवार को अवकाश है। ऐसे में सोमवार को सभी दफ्तर खुलेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पात्रता सूची पर महिलाओं का हंगामा