DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिता ने ली पुत्री की जान ली

शिवराजपुर के बीरामऊ गांव में गुरुवार सुबह एक पिता ने अपनी ही पुत्री की हत्या कर दी। गांववालों का कहना है कि यह हत्या झूठी शान के कारण की गयी है, क्योंकि लड़की की कथित तौर पर कई लड़कों से दोस्ती थी। लेकिन पुलिस के अनुसार यह हत्या की सामान्य घटना है। और इसे आनर किलिंग से नहीं जोड़ा जा सकता।

पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश ने बताया कि शिवराजपुर के बीरामऊ गांव के किसान बलराम पाल की 18 वर्षीय बेटी आकांक्षा पाल हाईस्कूल की छात्रा थी। गांववालों के अनुसार वह गांव के कई लड़कों से बात करती थी। कल रात भी वह अपने किसी दोस्त के घर थी जहां से उसके पिता उसे घर लेकर आये थे।

शिवराजपुर पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी आलोक मणि त्रिपाठी ने बताया कि पिता बहुत गुस्से में था। वह बेटी को गांव के लोगों से ज्यादा मेल-जोल बढ़ाने से मना करता था।

कई बार मना करने के बाद भी जब वह नहीं मानी तो आज तड़के बलराम ने अपनी बेटी के चेहरे पर धारदार लोहे के हथियार से हमला कर दिया। लड़की ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि पिता बलराम पाल को मौके से ही गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्या में इस्तेमाल हथियार भी जब्त कर लिया गया है। पुलिस हर पहलू से मामले की जांच कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पिता ने ली पुत्री की जान ली