DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिंचाई विभाग के 6 अफसर निलम्बित

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी में शारदा बैराज के निरीक्षण के दौरान मिली खामियों की वजह से सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव किशन सिंह अटोरिया को पद से हटा दिया जबकि प्रमुख अभियंता सहित छह अभियंताओं को निलम्बित कर दिया।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बुधवार को लखीमपुर खीरी जिले के शारदा बैराज का स्थलीय निरीक्षण करने गए थे और निरीक्षण के दौरान वहां अनिमितताएं मिलने पर मुख्यमंत्री ने यह कार्रवाई की। राज्य सरकार की तरफ से आधी रात 12.07 बजे एक प्रेस नोट जारी कर इस कार्रवाई की जानकारी दी गई।

जिन अधिकारियों का निलम्बन हुआ है उनमें सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता जयपाल सिंह, शारदा सिंचाई विभाग के मुख्य अभियंता अवधू राम, सिंचाई कार्य मंडल सीतापुर/बाढ़ कार्य मंडल लखीमपुर खीरी के अधीक्षण अभियंता लौटू राम, सिंचाई खंड शारदा नगर, लखीमपुर खीरी के अधिशासी अभियंता योगेश कुमार रावल, सिंचाई खंड-प्रथम, लखीमपुर खीरी के अधिशासी अभियंता भरत राम तथा बाढ़ खंड शारदा नगर लखीमपुर खीरी के अधिशासी अभियंता राम नयन शामिल हैं।

प्रेस नोट में बताया गया कि इन अभियंताओं के विरुद्ध यह कार्रवाई कार्य के प्रति उदासीनता एवं लापरवाही बरतने के आरोप में की गई है। शारदा बैराज के निरीक्षण के दौरान पाया गया कि बैराज में बंधों के निर्माण व अन्य बाढ़ नियंत्रण कार्यो में लापरवाही और वित्तीय अनिमितताएं हुई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिंचाई विभाग के 6 अफसर निलम्बित