DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेट्रोल पंप से हुई लूट का सुराग नहीं लगा सकी पुलिस

लूट और छिनैती की ताबड़तोड़ घटनाओं से कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है। हर रोज जिले में छिनैती या लूट की वारदात हो रहीं हैं। पुलिस घटनाओं को रोकने और उनका खुलासा करने में नाकाम साबित हुई है।  बदमाशों के हौसले बुलंद हैं और वे दिनदहाड़े वारदात को अंजाम दे रहे हैं। इससे व्यापारियों में दहशत है। भमोरा में मंगलवार को दिनदहाड़े व्यापारी नेता राजेंद्र गुप्ता के पेट्रोल पंप से तीन लाख रुपए कैश लूटने के मामले में 24 घंटे बाद भी पुलिस कोई सुराग नहीं लगा सकी है। व्यापारी नेता राजेंद्र गुप्ता ने बुधवार को एसएसपी से मुलाकात कर घटना के सही खुलासे की मांग की है। पिछले तीन माह में बदमाशों ने लूट और छिनैती की 18 घटनाओं को अंजाम दिया। इनका अब तक खुलासा नहीं हो सका है।

इन घटनाओं का खुलासा नहीं कर सकी पुलिस

नौ जनवरी 
कैंट में नवीनगर इलाके के इसरार खां से तीन हजार, गौरी से 2800, नेकपाल से 1600, कृष्णपाल से 1500 रुपए और मोबाइल लूट लिए।

20 जनवरी 
सेंट फ्रांसिस स्कूल में ग्यारहवीं के छात्र अंकित वर्मा से परवाना नगर से बाइक सवारों ने तमंचा दिखाकर मोबाइल लूट लिया। इसी दिन शाम को ब्रह्मपुरा टायर मंडी के पास रहने वाले फैजान से ईंट पजाया चौराहे पर बाइक सवार बदमाश तीन हजार रुपए छीन ले गए।

22 जनवरी-
भुता के गांव गूंगा निवासी बंटू पटेल से भुता रोड पर बाइक सवार बदमाश तमंचे के बल पर 45 हजार रुपए लूट ले गए।

29 जनवरी
राजेंद्रनगर निवासी व्यापारी श्री चंद्र पंजाबी की पत्नी ज्योति से बाइक सवार पर्स छीन ले गए। पर्स में एक लाख रुपए की सोने की चेन और मोबाइल था।

12 फरवरी-
प्रेमनगर में नेहरूपार्क निवासी दवा व्यापारी वेद अग्रवाल की पत्नी रीना अग्रवाल से गांधीनगर में बाइक सवार चेन खींचकर फरार हो गए।

14 फरवरी-
तुलसीनगर निवासी किरन गुप्ता से बाइक सवार घर के सामने से कुंडल नोचकर फरार हो गए।

23 फरवरी -
सनराइज इंक्लेव निवासी भगवती लोहनी से दोहरा मोड़ पर बाइक सवार दोनों कुंडल और चेन लूटकर फरार हो गए।

26 फरवरी -
रामपुर गार्डन निवासी अमरनाथ अग्रवाल की पत्नी वीना अग्रवाल से बाइकर्स चेन छीन ले गए। इसी दिन बरेली कॉलेज की छात्र रजिया से मोबाइल लूट ले गए।

28 फरवरी -
भूड़ निवासी सूरजभान कॉलेज की टीचर नेहा से बाइकर्स उनका पर्स छीनकर फरार हो गए। कुतुबखाना निवासी सर्राफा व्यापारी सुनील की पत्नी शालिनी रस्तोगी से पर्स छीन ले गए।

29 फरवरी-
 बिथरीचैनपुर में दलपतपुर निवासी होमगार्ड मिश्रीलाल के बेटे रजनीश और उसके दोस्त दिनेश को बदमाशों ने लूट लिया। विरोध करने पर उसे गोली मार दी।

1 मार्च-
बिथरीचैनपुर इलाके में फरीदपुर कीरतपुर रोड पर मुकेश, राहुल, ट्विंकल समेत पांच लोगों को बंधक बनाकर लूटपाट की गई।
- सिंधुनगर निवासी बुडरो स्कूल की टीचर वंदना अस्थाना से गाध्ंी उद्यान के पास बाइक सवार पर्स लूटकर फरार हो गए।

तीन मार्च -
 सशस्त्र बदमाशों ने भोजीपुरा इलाके में बनारस निवासी राजेंद्र और उनकी पत्नी शीला समेत परिवार के छह लोगों को बंधक बनाकर लूटपाट की।

21 मार्च-
रिटायर्ड लेफ्टिनेंट राम किशोर शर्मा की पत्नी प्रेमलता से रोहली टोला में बाइकर्स कुंडल छीनकर फरार हो गए।

25 मार्च -
कैंट में सैनिक विहार निवासी संगीता उपाध्याय से शहामतगंज चौराहे पर बाइक सवार चेन छीन ले गए।

27 मार्च -
सुरेश शर्मा नगर में दिनदहाड़े जेएनयू के प्रो. यूपी अरोरा की पत्नी सरिता से बाइक सवार चेन छीनकर फरार हो गए।

31 मार्च -
कैंट के बीआई बाजार में आर्मी नायक सूबेदार जमुना प्रसाद की पत्नी किरन से बाइकर्स चेन लूट ले गए।

3 अप्रैल -
भमौरा में व्यापारी नेता राजेंद्र गुप्ता के पेट्रोल पंप मैनेजर से बाइक सवार तीन लाख रुपए लूट ले गए।

सुजाता की चालाकी भी नहीं आई काम
बदमाश जब महिलाओं के अलावा सत्यप्रकाश और जगदीश से जेवर उतरवा रहे थे तो सुजाता ने अपने सोने के कंगन उतारकर गाड़ी में सीट के नीचे फेंक दिए। सुजाता का अनुमान था कि बदमाश जेवर और कैश ले जाएंगे, लेकिन गाड़ी छोड़ जाएंगे। बदमाश गाड़ी भी ले गए। इससे उसमें पड़े सोने के कंगन भी साथ ही चले गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लूट का सुराग नहीं लगा सकी पुलिस