DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुम्भ के दौरान गंगा में भरपूर पानी छोड़ेगा उत्तराखंड

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने विश्वास दिलाया है कि अगले साल कुम्भ मेले के समय गंगा में पानी की कमी नहीं होगी। मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार गृहनगर आए विजय बहुगुणा ने सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कुम्भ में संगम लबालब रहेगा और इसके लिए वह उस समय उत्तराखंड में जल विद्युत उत्पादन भी बंद करने को तैयार हैं।

विजय बहुगुणा ने साफ कर दिया कि गंगा में पानी के लिए चल रहे आंदोलन से उत्तराखंड की प्रस्तावित जल विद्युत परियोजनाएं नहीं रुकेंगी। वह राज्य में प्रस्तावित जल विद्युत परियोजनाओं का मुद्दा गंगा रिवर बेसिन अथॉरिटी की मीटिंग में रखेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड का विकास जल विद्युत परियोजना से जुड़ा है और भावनाओं में बहकर विकास नहीं रोका जा सकता। उत्तराखंड में इस समय 150 मेगावाट बिजली की कमी है। गंगा की धारा रोकने के सवाल पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कहा कि जल विद्युत परियोजना के सभी प्रोजेक्ट अलकनंदा और भागीरथी पर हैं। गंगा में प्रदूषण के लिए उन्होंने यूपी सरकार को दोषी ठहराया और कहा कि हरिद्वार तक गंगा का पानी साफ है। विजय बहुगुणा गुरुवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ परिसम्पत्तियों के बंटवारे पर बातचीत करेंगे। प्रस्तावित मीटिंग के एजेंडे पर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से पेंशन के एक हजार करोड़ रुपये व उत्तराखंड की जेल में बंद कैदियों को यूपी भेजने आदि पर चर्चा होगी। परिसंपत्तियों के बंटवारे सहित अन्य समझौते दोनों राज्यों के बीच बंटवारे के दौरान हुए थे।

विजय बहुगुणा ने उत्तराखंड को देश का स्विटजरलैंड बनाने का वादा किया। प्रदेश की पिछली भाजपा सरकार को कोसते हुए उन्होंने कहा कि पांच साल तक उत्तराखंड का विकास ठप रहा। ठप पड़े विकास कार्य फिर शुरू करना और उत्तराखंड में पर्यटन का विकास करना है। उत्तराखंड-उत्तर प्रदेश टूरिस्ट सर्किट विकसित करने की योजना है। इससे पहले उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विशेष विमान पर देहरादून से सुबह 10:30 बजे बम्हरौली एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. रीता बहुगुणा जोशी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने विजय बहुगुणा का स्वागत किया। इसके बाद विजय बहुगुणा ने सिविल लाइंस में फायर ब्रिगेड के सामने स्थित अपने पिता हेमवती नंदन बहुगुणा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। प्रतिमा के पास एक समारोह में कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया। स्वागत समारोह के पश्चात मुख्यमंत्री आनंद भवन गए और देश के पहले प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू और इलाहाबाद विश्वविद्यालय में शहीद लाल पद्मधर को श्रद्धांजलि दी। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन और जस्टिस द्विवेदी आल इंडिया क्रिकेट प्रतियोगिता की आयोजन समिति ने भी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुम्भ के दौरान गंगा में भरपूर पानी छोड़ेगा उत्तराखंड