DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगा पर सरकार की उदासीनता से लोगों में गुस्सा

गंगा की निर्मलता के प्रति राज्य सरकार की उदासीनता उसके लिए समस्या बनती जा रही हैं। गंगा की निर्मलता के लिए बडी संख्या में लोग जहां वाराणसी के शंकराचार्य घाट पर चलाए जा रहे आंदोलन से जुड रहे हैं वहीं सरकार के प्रति उनका गुस्सा भी फूट रहा है। इस आंदोलन में बडी संख्या में लोग धर्म एवं जाति से ऊपर उठकर भाग ले रहे हैं। आज ईसाई एवं मुस्लिम समुदाय के लोग इस अभियान के पक्ष में घाट पर अनशन पर बैठे और आंदोलन को पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया।।

ग्यातव्य है कि गंगा प्रेमी भिक्षु अन्न जल त्यागकर कबीरचौरा के मण्डलीय अस्पताल में तपस्यारत है। वहीं स्वामी कृष्ण प्रिया नन्द भी अनशन पर बैठे हैं। भिक्षु की तपस्या का आज 13वां दिन है। गंगा के लिए लम्बे समय से संघर्षरत स्वामी ज्ञान स्वरुप सानन्द ने आज कबीरचौरा अस्पताल जाकर तपस्यारत भिक्षु से मुलाकात की और उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। तपस्यारत भिक्षु का स्वास्थ्य लगातार बिगडता जा रहा है। उसकी नाडी एवं श्वांस की गति सामान्य से काफी नीचे चली गई है। उसके गिरते स्वास्थ्य से चिंतित अस्प्ताल प्रशासन ने भिक्षु को उच्च चिकित्सा केन्द्र में रैफर करने का सुझाव प्रशासन को दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंगा पर सरकार की उदासीनता से लोगों में गुस्सा