DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली मुशायरे में खलेगी शहरयार-हुसैन की कमी

दुनिया भर के उर्दू शायर शुक्रवार को दिल्ली के सबसे पसंदीदा मुशायरे में शिरकत करने के लिए जुटेंगे लेकिन इस आयोजन में इसके लंबे समय तक संरक्षक रहे शायर शहरयार और मशहूर चित्रकार एम एफ हुसैन की गैर मौजूदगी काफी खलेगी।

सालाना जश्न ए बहार मुशायरा ने अपने दोनों वरिष्ठ संरक्षकों को पिछले एक साल के दौरान खो दिया। यह मुशायरा दिल्ली के साहित्यिक समारोहों का एक बहु प्रतीक्षित आयोजन रहता है।

मुशायरे में इस साल जावेद अख्तर और वसीम बरेलवी सहित 16 शायर शिरकत करेंगे। इसके अलावा भारत के बाहर से आये सात शायर भी अपने कलाम पेश करेंगे। मुशायरे में शहरयार और हुसैन को श्रद्धांजलि दी जायेगी।

उमराव जान फिल्म की बेमिसाल गजलें लिखने वाले शायर शहरयार ने पिछले साल तक मुशायरे में शिरकत की थी। हुसैन भी भारत में जब तक रहे, वह हमेशा इस मुशायरे में जरुरत आते थे।

कैंसर से लंबी लड़ाई के बाद शहरयार ने 75 वर्ष की आयु में पिछले माह दम तोडा़। हुसैन की पिछले साल जून में 95 वर्ष की आयु में मौत हुई।

ट्रस्ट की संस्थापक कामना प्रसाद ने बताया कि जश्न ए बहार एकमात्र ऐसा मुशायरा था जिसमें हुसैन अपनी शायरी सुनाते थे। शहरयार हर साल यहां आते थे और 2011 उनका अंतिम मुशायरा था। उन्होंने कहा कि हम अपनी तरह से उन्हें श्रद्धांजलि देने का प्रयास करेंगे और हम मुशायरे के मंच से उनके बारे में बोलेंगे। इस बार मुशायरे में भारत के बाहर से सात शायर आयेंगे जिनमें दो पाकिस्तान के होंगे।

इस बार शिरकत करने वालों में अमेरिका के मैक्स ब्रूस होंगे। मैक्स पिछली बार उन्होंने पिछली बार अपनी सुंदर एवं ताजा शायरी से मुशायरे में कई लोगों का मन मोह लिया था।

मुशायरे में संयुक्त अरब अमीरात के जुबेर फारूक अलारशी, कतर के अजीज नबील, कनाडा के तकी अबीदी और पाकिस्तान के विख्यात शायर नसीर काजमी के पुम्त्र बशीर काजमी शामिल हैं।

मुशायरे में पाकिस्तान के दो प्रख्यात शायर जेहरा निगाह और इस्लामाबाद अनवर मसूद भी हिस्सा लेंगे। दिल्ली में जश्न ए बहार का यह 14वां आयोजन होगा। इस बार के आयोजन में दिल्ली पब्लिक स्कूल का एक युवा छात्र भी अपना काव्य पाठ करेगा।

इस साल मुशायरा जमशेदपुर के करीम कालेज भी जायेगा। यह पहल युवा लोगों के बीच उर्दू को लोकप्रिय बनाने के प्रयासों के तहत की जायेगी। मुशायरे में इस साल शामिल होने वाले भारतीय शायरों में मंसूर उस्मानी, गौहर रजा, दीप्ति मिश्रा, मुख्तार युसूफी, राजेश रेडडी, नसरीन नक्काश और नुजहत अंजुम शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली मुशायरे में खलेगी शहरयार की कमी