DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा में कैग रिपोर्ट पेश

वित्तीय वर्ष 2010-11 की अवधि के राज्य के वित्त और सिविल कार्य के अंकेक्षण की नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) की रिपोर्ट को बिहार विधानसभा में मंगलवार को पेश की गयी।

पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कैग (सीएजी) रिपोर्ट को सदन में पेश किया। सीएजी की रिपोर्ट में वित्तीय वर्ष 2010-11 की अवधि का राज्य सरकार के वित्तीय लेखों और सिविल कार्य का अंकेक्षण किया गया है।

नेता प्रतिपक्ष अब्दुल बारी सिद्दिकी ने अपने बयान में कहा है कि सीएजी की जो रिपोर्ट आयी है उसमें 23 विभागों के अंकेक्षण में गबन, दुर्विनियोजन, हानि एवं चोरी के 409 करोड़ रुपये के कुल 1034 मामले सामने आये हैं।

सिद्दिकी ने कहा कि राज्य सरकार ने एसी बिल के माध्यम से 25331.05 करोड़ रुपये निकाल लिये, लेकिन 14 सितंबर 2011 तक 2755.68 करोड़ रुपये के डीसी बिल जमा किये गये। 22,575 करोड़ रुपये का डीसी बिल लंबित है। इस मामले की जांच करायी जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधानसभा में कैग रिपोर्ट पेश