DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली का रोना

दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में जिस तरह बिजली गायब रहने लगी है, उसने दिक्कतें बढ़ा दी हैं। यह गर्मी की शुरुआत का हाल है। ऐसे में पिछले वर्षो का हाल सोचकर ही पसीने आने लगता है। बिजली सप्लाई करने वाला तंत्र बिलों के भुगतान के लिए सख्ती बरतता है, तो वह बुरा भले लगे लेकिन यह कदम उचित है। यह भी उम्मीद भी उचित ही है कि बिजली की सही और पूरी सप्लाई हो। यह तर्क नहीं चलने वाला कि बिजली उत्पादन के लिए इकाइयां लगाई जा रही हैं और कुछ साल बाद हालत सुधर जाएगी। उपभोक्ता पैसे के एवज में सुविधा मांगेगा ही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली का रोना