DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार कोतवाली और 12 पुलिस चौकियां बनेंगी

 ग्रेटर नोएडा/वरिष्ठ संवाददाता

शहर के सुरक्षा इंतजाम और मजबूत किए जाएंगे। कानून-व्यवस्था की समीक्षा के लिए मंगलवार को ग्रेटर नोएडा में प्राधिकरण, प्रशासन और पुलिस अफसरों की बैठक हुई। जिसमें निर्णय लिया गया कि ग्रेटर नोएडा में अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए चार नई कोतवाली और 12 पुलिस चौकियां बनाई जाएंगी। एक नया फायर स्टेशन भी बनेगा। इन सबके लिए प्राधिकरण जमीन देगा। निर्माण का खर्च भी उठाएगा। कोतवाली, चौकियों में पद स्वीकृति और तैनाती के लिए शासन को प्रस्ताव भेज दिए गए हैं।कानून-व्यवस्था में सुधार लाने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण, जिला पुलिस प्रशासन और पुलिस को सरकार ने हरसंभव कदम उठाने का आदेश दिया है। इसी मुद्दे पर मंगलवार को अफसरों की प्राधिकरण बोर्ड रूम में बैठक हुई। बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए प्राधिकरण के सीईओ/चेयरमैन रमा रमण ने बताया कि शहर में चार नए पुलिस स्टेशन और 12 पुलिस चौकियां बनाई जाएंगी। अभी शहर में एक फायर स्टेशन है। शहर का आकार बढ़ रहा है।

आबादी बढ़ रही है। शहर में सुरक्षा और चौकसी सबसे महत्वपूर्ण है। इसको ध्यान में रखते हुए एक और फायर स्टेशन बनाया जाएगा। इन सभी के लिए प्राधिकरण के प्लानिंग और लैंड डिपार्टमेंट ने जमीन चिह्न्ति और आवंटित कर दी है। सारे भवनों का निर्माण प्राधिकरण ही करवाएगा। इमारतों के नक्शे पुलिस विभाग से मांगे गए हैं। नक्शों और जरूरतों के आधार पर बजट बना लिया जाएगा। अगले डेढ़ साल में इन सारी इमारतों का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। बैठक में जिलाधिकारी एमकेएस सुंदरम, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रवीण कुमार, पुलिस अधीक्षक (देहात) अशोक कुमार, डीसीईओ अखिलेश सिंह और डीसीईओ पीसी गुप्ता मौजूद थे।

यहां बनेंनी चार नई कोतवाली 1. नॉलेज पार्क तीन2. इकोटेक वन एक्सटेंशन3. नॉलेज पार्क फाइव4. आईटी सिटी यहां बनेंगी 12 चौकियां1. नॉलेज पार्क तीन 2. सेक्टर वन 3. ओमीक्रान वन ए 4. ओमीक्रान वन 5. ओमीक्रान तीन 6. जीबीयू के पास 7. डेल्टा वन8. स्वर्ण नगरी9. बिल्डर्स एरिया10. नॉलेज पार्क फाइव 11. नॉलेज पार्क फाइव 12. ईटा वनएक फायर स्टेशन नॉलेज पार्क

फाइव---------------‘कानून-व्यवस्था के मामले में कोई ढिलाई नहीं बरती जाएगी। सुरक्षा इंतजामात को पुख्ता करने के लिए योजना बना ली गई है। जिसमें प्राधिकरण ने मदद करने का आश्वासन दिया है।’एमकेएस सुंदरम, जिलाधिकारी---‘नए थाने और चौकियों में पदों की स्वीकृति और नियुक्ति के लिए शासन को प्रस्ताव भेजे गए हैं। विकास प्राधिकरण ने जमीन आवंटित कर दी है।

भवनों का निर्माण भी प्राधिकरण करेगा।’प्रवीण कुमार, एसएसपी---अभी चलती रहेंगी पीसीआरशहर में तैनात 20 पीसीआर वैन अभी बदस्तूर चलती रहेंगी। प्राधिकरण ने जिलाधिकारी और एसएसपी को जिम्मेदारी दी है कि पीसीआर के किराए और खरीद के खर्च का वित्तीय और लेखा आंकलन कर लें। हालांकि, पुलिस महकमे में चालकों की कमी के कारण फिलहाल गाडिम्यां खरीदना संभव नहीं है। वैसे भी इन पीसीआर से 31 दिसंबर, 2012 तक का अनुबंध है।

---जल्दी पूरा होगा पुलिस ऑफिस

कलेक्ट्रेट के पास निर्माणाधीन पुलिस कार्यालय का निर्माण जल्दी पूरा करवाने की मांग एसएसपी ने की। जिस पर प्राधिकरण ने आश्वासन दिया कि जल्दी ही कार्यालय का निर्माण पूरा करवा लिया जाएगा।

कार्यालय तैयार होने के बाद एसएसपी भी जिला मुख्यालय पर बैठने लगेंगे।दो महीने बाद डीएम ग्रेनो में रहेंगेलखनावली गांव के पास जिलाधिकारी, एसएसपी समेत चार अधिकारियों के आवास बनकर तैयार हो गए हैं। फिनिशिंग का काम जारी है। फिलहाल जिलाधिकारी नोएडा में रहते हैं। डीएम ने जानकारी दी कि मई में वे ग्रेटर नोएडा के आवास में आकर रहने लगेंगे।‘स्थानांतरणों का फायदा उठा रहे हैं बदमाश’जिले भर में ताबड़तोड़ लूट की घटनाओं पर जब एसएसपी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह ट्रांजिशन फेज है। अधिकारियों के तबादले हो रहे हैं। नए अफसर अभी पूरी तरह स्थापित नहीं हुए हैं। यह ज्यादा दिनों की बात नहीं है। बहुत जल्दी बदमाश जेल में नजर आएंगे। फिलहाल जो लुटेरे वारदात कर रहे हैं, उनमें से कई की पहचान कर ली गई है। एसएसपी ने कहा कि ‘बस थोड़े समय की जरूरत है।’

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चार कोतवाली और 12 पुलिस चौकियां बनेंगी