DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सात अप्रैल को बोर्ड बैठक में रखा जाएगा मामला

शहर के अधिकांश बारातघर मालिकों ने शानदार बारातघर तो बनवाए लेकिन पार्किग के लिए जगह छोड़ना जरूरी नहीं समझा। उनकी इस लापरवाही का खामियाजा शादी-पार्टी के दौरान सड़क पर चलने वाले राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है। कमिश्नर की नाराजगी के बाद जागे बीडीए के अफसरों ने ऐसे 71 बारातघरों की सूची तैयार कर ली है जिनमें पार्किग नहीं बनाई गई है। सभी को नोटिस जारी किया गया है। इस मामले को सात अप्रैल को होने जा रही बोर्ड की बैठक में रखा जाएगा।

ऐसे खुला मामला
यातायात माह के दौरान तमाम लोगों ने कमिश्नर और डीएम से बारातघरों की मनमानी की शिकायत की। लोगों का कहना था कि तमाम बारातघर मानकों के विपरीत बने हैं। बारातघरों में पार्किग नहीं है। इस कारण शादी व पार्टियों में आने वाले लोग अपने वाहनों को सड़कों पर पार्क करते हैं जिससे जाम लग जाता है। लोगों ने आरोप लगाया कि बीडीए के अफसर आंख मूंदकर बारातघरों के नक्शे पास कर देते हैं। कुछ बारातघर छोटी-छोटी गलियों में भी खोल दिए गए हैं। बीडीए बोर्ड की बैठक में कमिश्नर ने बीडीए के अफसरों से इस बारे में पूछताछ की तो अफसर बगलें झांकने लगे। कमिश्नर ने बीडीए के इस रवैए पर नाराजगी जताई और बगैर पार्किग के चल रहे बारातघरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को कहा।

बीडीए ने तैयार की सूची
कमिश्नर की फटकार के बाद बीडीए ने ऐसे बारातघरों का सर्वे कराया, जिनके पास अपनी पार्किग नहीं है। दो महीने तक चले सर्वे के बाद 71 बारातघरों की सूची तैयार की गई। बीडीए ने सभी बारातघरों को नोटिस जारी किए हैं। इस मुद्दे पर बीडीए बोर्ड के सदस्य सात अप्रैल को अफसरों को घेरने की तैयारी कर रहे हैं।

इन बारातघरों को दिए गए हैं नोटिस
आरिश बैंक्वट हॉल एंड लॉन, फहम लॉन, रोज बैंक्वेट हाल, ग्रीनलैंड मल्टीपरपज लॉन, जमुना लॉन, सिटी क्लब एंड बैंक्वट लॉन, गॉड्स लॉन, गुप्ता बैंक्वट हॉल, स्वर्ण फर्म एंड पार्टी लॉन, अमन शादी हॉल, साजन पैलेस, शादी महल, बसीर पैलेस, श्रेया बारातघर, पाल बारातघर, मंगलम बैंक्वट हॉल, सुहाग बारातघर हजियापुर, पैराडाइज मैरिज हॉल, खुशी बैंक्वट हॉल, माधवन पैलेस, काशीनाथ लॉज, राधाकृष्ण बैंवक्ट हॉल, श्रीजी लॉन, स्वदेशी मैरिक हॉल, गजाला शादी हॉल, ऐवान-ए-फरहत, गुड मैरिज हॉल, मैरिक कौंसिल, उरुस शादी महल, वैशाली बैंक्वट हॉल, मैरिज इन बारातघर, डिलाइट बारातघर, पाटी पैलेस, उत्सव बारातघर, बेदी बारातघर, मिलन बारातघर, द राइजिंग बारातघर, इकबाल पैलेस, स्वयंवर बारातघर, श्री हरिमिलाप, प्रिया मैजि हॉल, रंगोली पैलेस, ऐवाने मजहर, इंडियन पैलेस, चिश्तिया कादरी, ऐवाने कादरी, कशिश बैंक्वट हॉल, मोती विवाह स्थल, सीएल हेरिटेज, सहगल होटल, कृष्णा बारातघर, जवाहर पैलेस, शिव स्वयंवर पैलेस, दिव्या पैलेस, दया बारातघर, शैल कृष्ण बारातघर, आलीशान बारातघर, त्रिमूर्ति बारातघर, शिव राधा बारातघर, संगम बैंक्वट हॉल, दीपा पैलेस, प्रभा मंडप, प्रभा पैलेस, राजश्री गार्डन, रॉयल क्लासिक बारातघर, बरेली मैरिज हॉल, सूर्या बैंक्वट हॉल, दुल्हन मैरिज हॉल, बंधन बारातघर, श्रेया बारातघर, सत्यम बारातघर।

बारातघर वालों के लिए खड़ी हुई मुश्किल
बीडीए के सर्वे के बाद बारातघर वालों के लिए मुश्किल खड़ी होने जा रही है। बीडीए मानकों की अनदेखी करने वाले बारातघरों के बाहर पार्किग पर प्रतिबंध लगाने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए सभी बारातघरों के बाहर बकायदा बोर्ड लगाए जाएंगे। वीसी बीडीए जेपी सगर ने कहा कि इस मुद्दे को बोर्ड की बैठक में रखे जाने के बाद बोर्ड लगाने का काम शुरू होगा। कमिश्नर ऐसे बारातघरों को कोई छूट देने के मूड में नहीं हैं। इस मामले में बीडीए के कुछ अफसर भी जांच के दायरे में आ सकते हैं।


पार्किग बारातघर के नक्शे में शामिल होती है। बगैर नक्शे के पार्किग कैसे बन गई, यह भी जांच का विषय है। जब तक बारातघर पार्किग नहीं बना लेते, तब तक उनके खिलाफ कोई कड़ा कदम उठाया जाना चाहिए। इस बारे में बोर्ड बैठक में फैसला लिया जाएगा।
             के राममोहन राव, कमिश्नर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सात अप्रैल को बोर्ड बैठक में रखा जाएगा मामला