DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यवसायी वर्ग की समस्याओं को लेकर सरकार संवेदवनशील

पटना(हि. ब्यू.)। उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि सरकार व्यवसायी वर्ग की समस्याओं को लेकर संवेदवनशील है। सरकार हमेशा उनके हित की चिंता करती रही है। इसके लिए अलग से आयोग बनाने की कोई जरूरत नहीं है। राज्य सरकार की कई समितियों में इस वर्ग का पूरा प्रतिनिधित्व है।

भाजपा के वैद्यनाथ प्रसाद के संकल्प पर सरकार की ओर से वक्तव्य देते हुए उप मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यवसायी वर्ग से जुड़े विभाग भी उनकी चिंता करते हैं। समय-समय पर व्यवसायियों द्वारा दिये जाने वाले ज्ञापन और मांग पत्रों पर संबंधित विभाग संजीदगी से विचार करते हैं।

इसके पहले प्रसाद ने अपने संकल्प के माध्यम से व्यसायिक आयोग के गठन की मांग की। उन्होंने कहा कि चूंकि कई वर्गों के विकास के लिए आयोग के गठन हुए हैं लिहाजा व्यसायिक आयोग के गठन में कोई परेशानी नहीं होगी।

पटना से किशनगंज और अररिया के लिए ट्रेन की सिफारिश होगी सूचना एवं जनसंपर्क व परिवहन मंत्री वृशिण पटेल ने कहा कि राज्य सरकार पटना से किशनगंज और अररिया के लिए सुपर फास्ट ट्रेन चलाने की सिफारिश करेगी। वह सोमवार को दिलीप कुमार जायसवाल के संकल्प पर सरकार की ओर से वक्तब्य दे रहे थे।

इसी के साथ बासुदेव सिंह के अन्य संकल्प पर वक्तब्य देते हुए मंत्री ने कहा कि समस्तीपुर-खगडिम्या रेलखंड पर स्थित गढ़पुरा रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाएं बढ़ाने की भी सिफारिश केन्द्र से की जाएगी। वोटिंग करनी पड़ीसरकार के वक्तब्य से असंतुष्ट परिषद सदस्य द्वारा संकल्प वापस नहीं लेने के कारण विधान परिषद में सोमवार को वोटिंग करानी पड़ी।

हालांकि परिषद सदस्य संजय प्रसाद का संकल्प सदन ने बहुमत से खारिज कर दिया। वह ‘स्थानीय विधायक क्षेत्रीय विकास योजना’ के नाम से नई योजना शुरू करने के लिए संकल्प लाये थे।

सरकार की ओर से मंत्री नरेन्द्र नारायण यादव ने कहा कि ऐसा नहीं किया जा सकता है लिहाजा सदस्य संकल्प वापस ले लें। जब प्रसाद ने ऐसा नहीं किया तो उनका संकल्प बहुमत से खारिज कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यवसायी वर्ग की समस्याओं को लेकर सरकार संवेदवनशील