DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रास चुनाव: आरके व सौमित्र से 7 घंटे पूछताछ

राज्य सभा चुनाव के दिन 30 मार्च को रांची के पास पकड़े गये 2 करोड़ 15 लाख रुपये के मामले में पूछताछ शुरू हो गई है। आयकर विभाग की अन्वेषण शाखा ने साह स्पंज एंड पावर लि. के प्रमुख राजकुमार साह (आरके साह) और उनके पुत्र सौमित्र साह से सोमवार को 7 घंटे तक पूछताछ की। पूछताछ अन्वेषण शाखा के बिष्टूपुर स्थित कार्यालय में हुई। उसका नेतृत्व उप निदेशक (अन्वेषण) संजय कुमार ने किया।

आयकर सूत्रों के अनुसार पिता-पुत्र से आयकर अधिकारियों ने यह जानना चाहा कि 2 करोड़ 15 लाख रुपये किस मद के हैं और इसका स्नोत क्या है। सूत्रों के अनुसार साह व सौमित्र ने बताया कि यह रकम झारसुगुड़ा स्थित उनके प्लांट का है।

उन्होंने यह भी बताया कि रकम उन्होंने चांडिल के डोबो के समीप के एक प्लॉट खरीदने के लिए निकाली थी और रांची पेमेंट करने उनका कर्मचारी गया था। वे फोर्ड कार के शोरूम जा ही रहे थे, जहां रकम देनी थी कि इनकम टैक्स की टीम ने दबोच लिया। यह रकम संजय सिंह नामक व्यक्ति को पेमेंट करनी थी। हालांकि पूछताछ में वे रकम को लेकर पर्याप्त साक्ष्य पेश करने में विफल रहे।

अग्रवाल के समधी हैं आरके
राज्य सभा चुनाव में उतरे निर्दलीय प्रत्याशी व सिंहभूम चैम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल के समधी हैं राजकुमार साह। सौमित्र आरके अग्रवाल के दामाद हैं। चुनाव के दिन रांची के पास इनकम टैक्स द्वारा सघन जांच में एक इनोवा गाड़ी पकड़ी गई थी जिसमें 2 करोड़ 15 लाख रुपये मिले थे।

यह गाड़ी जुगसलाई निवासी सुरेश कुमार अग्रवाल (भालोटिया) की है। सुरेश अग्रवाल के रिश्तेदार चिंटू भालोटिया ने स्वीकार किया था कि उसने गाड़ी सौमित्र साह के मांगने पर उपलब्ध कराई थी। गाड़ी में रुपये के साथ पकड़े गये साह स्पंज एंड पावर लि. का अधिकारी व चालक को आयकर विभाग ने पुलिस के सुपुर्द कर दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रास चुनाव: आरके व सौमित्र से 7 घंटे पूछताछ