DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा ने माना प्रशासन से हुई चूक, भाजपा दे रही हवा

रविवार को ब्रम्हाणी मंदिर में पीएसी की गोलियों से तीन देवी भक्तों की हुई मौत को प्रशासन की चूक माना। उधर भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने मामले को हवा देते हुए सीबीसीआईडी जांच पर अविश्वास जताया और इसे सदन में उठाने की बात कही। कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए की सहायता राशि दी। एडीजी ने मामले की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। गोलीबारी में मारे गए तीसरे व्यक्ति की शिनाख्त फिरोजाबाद के देवी भक्त के रूप में हुई है।
रविवार की शाम बलरई थाना क्षेत्र के ब्रम्हाणी देवी मंदिर में झंडा पहले चढ़ाने को लेकर बवाल हो गया। बीच बचाव करने पहुंचे थानाध्यक्ष को पीटने के साथ ही उपद्रवियों ने पीएसी जवानों पर भी हमला कर दिया। इसके बाद पीएसी की ओर से की गई फायरिंग में तीन देवी भक्तों की मौत हो गई थी। घटना की जानकारी पर कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव यहां पहुंचे और प्रशासन की चूक बताते हुए कहा कि सतर्कता नहीं बरती गई। शिवपाल ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए सहायता राशि दी। उधर, पूर्व मंत्री प्रेमलता कटियार के नेतृत्व में पहुंचे भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने न्यायिक जांच की मांग करते हुए गवर्नर से मिलने की बात कही है। भाजपा नेता श्रीमती कटियार ने कहा कि प्रदेश सरकार पीड़ित परिवार से एक एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दे और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करे।

घटना की रात रविवार को ही इटावा पहुंचे एडीजी जगमोहन यादव, आईजी पीएसी ने घटना स्थल पर जाकर लोगों के बयान दर्ज किए और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। प्रशासनिक अफसरों के साथ शिवपाल सिंह यादव मृतक मुन्नालाल की अंत्येष्टि में भी पहुंचे। उधर, तीसरे मृतक देवी भक्त की शिनाख्त दिनेश (18) पुत्र छोटेलाल निवासी दगावली मड़सैना फिरोजाबाद के रूप में हो गई है। घटना की रिपोर्ट थानाध्यक्ष जय श्याम शुक्ला की ओर से दर्ज कराई गई है। दूसरी ओर से दिनेशचंद्र की ओर से पुलिस व पीएसी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सपा ने माना प्रशासन से हुई चूक