DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाइवे पर पिता-पुत्र का अपहरण कर लूटपाट

आगरा-दिल्ली हाइवे पर रविवार की रात बदमाशों ने फिर सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया। आगरा-मथुरा सीमा पर दिल्ली जा रहे पिता-पुत्र की गाड़ी को घेर लिया। बदमाशों ने दोनों को बंधक बनाकर अपनी गाड़ी में डाल लिया। जेब में रखे पैसे, गले की चेन और अंगूठी छीन ली। विरोध करने पर गोली चला दी। गोली युवक के हाथ से पार निकल गई। बदमाशों की गाड़ी डिवाइडर से टकरा गई। वे घबरा गए। पिता-पुत्र को मौके पर फेंककर उनकी गाड़ी से भाग गए। लूट के मुकदमे से बचने के लिए फरह पुलिस ने पीड़ितों को रुकनता (सिकंदरा) चौकी भेज दिया।

घटना रात करीब 12 बजे की है। प्रशांत शुक्ल अपने पिता भगवान सिंह शुक्ल के साथ कानपुर से अपने घर महरौली, दिल्ली लौट रहे थे। भगवान सिंह शुक्ल दिल्ली नगर निगम में अधिकारी हैं। दोनों स्विफ्ट डिजाइर गाड़ी डीएल2सी-एएल-9283 में सवार थे। प्रशांत के अनुसार आगरा-फरह सीमा के पास एक जाइलो गाड़ी ने ओवरटेक करके उन्हें रोक लिया। वे कुछ समझ पाते इससे पहले जाइलो से आधा दजर्न बदमाश नीचे उतरे। उन पर तमंचे तान दिए। उन्हें गाड़ी से बाहर घसीटकर अपनी गाड़ी में बैठा लिया। एक बदमाश ने उनकी गाड़ी ड्राइव करने लगा। बदमाशों ने उनकी जेब में रखे 28000 रुपये, सोने की चेन और अंगूठी छीन ली। उसने विरोध किया। एक बदमाश ने तमंचे से गोली चला दी। गोली उसके हाथ में लगी। वह घबरा गया। बदमाश धमकी देने लगे कि आगे यमुनापुल से नीचे फेंक देंगे। उनकी बात सुनकर वे घबरा गए। बदमाशों के आगे गिड़गिड़ाए। इसी दौरान बदमाशों की गाड़ी डिवाइडर से टकरा गई। वे घबरा गए। उन्हें और अपनी गाड़ी को मौके पर ही छोड़कर उनकी स्विफ्ट से भाग गए। वे फरह थाने पहुंचे। पुलिस ने सुबह छह बजे तक उन्हें इधर-उधर टहलाया। उसके बाद यह कह दिया कि मामला आगरा के सिकंदरा क्षेत्र का है। उन्हें रुनकता चौकी भेज दिया गया। रुनकता चौकी पर घटना का मुकदमा दर्ज किया गया है। लूट की सूचना पर सीओ सहित कई अधिकारियों ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। बदमाशों की गाड़ी पुलिस ने अपने कब्जे में ले ली है। उस पर यूपी16जेड-7770 नंबर लिखा हुआ है। पुलिस यह पता लगा रही है कि यह गाड़ी किसकी है। ताकि बदमाशों तक पहुंचने का कोई रास्ता मिल सके। आशंका यही जताई जा रही है कि मौके पर छोड़ी गई गाड़ी भी लूट की हो सकती है।


इसी अंदाज में लूटी थी ढाई करोड़ की चाँदी
आगरा। 18 फरवरी की रात आगरा-दिल्ली हाइवे पर इसी अंदाज में बोलेरो सवार बदमाशों ने ढाई करोड़ की चाँदी लूटी थी। इस घटना का भी अभी तक खुलासा नहीं हुआ है।

संजय प्लेस स्थित ब्लू डार्ट कूरियर कंपनी से दिल्ली एयरपोर्ट मिनी कंटेनर से साढ़े पांच कुंतल चांदी, कीमती मूíतयां भेजी जा रही थीं। वैन बांदा निवासी चंद्रपाल चला रहा था। सुरक्षा के लिए बसई अरेला स्थित पुरा टीकमसिंह का गनमैन हरवीर परिहार साथ था। जैत चौकी निकलते ही बदमाशों ने उनकी गाड़ी को घेरा था। ड्राइवर और गार्ड को अलीगढ़ में फेंका गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हाइवे पर पिता-पुत्र का अपहरण कर लूटपाट