DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा के लिए प्रत्याशी घोषित कर बसपा ने चौकाया

केन्द्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार को बाहर से बिना शर्त समर्थन दे रही बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने लोकसभा चुनाव समय से पहले होने का संकेत देते हुए सोमवार को अपने छह प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी।

बसपा ने अपने कार्यकर्ताओं को लोकसभा चुनाव के लिए अभी से जुट जाने का आह्वान करते हुए कहा कि केन्द्र की सरकार अपने अन्तरविरोधों के कारण गिर जाएगी तथा आम चुनाव समय से एक वर्ष पहले हो जाएंगे। उत्तर प्रदेश से राज्यसभा की 10 सीटों के लिए गत 30 मार्च को हुऐ द्विवार्षिक चुनाव में बसपा प्रमुख मायावती के साथ निर्विरोध निर्वाचित होने वाले पार्टी के दूसरे प्रत्याशी मुनकाद अली ने यहां पश्चिमी उत्तर प्रदेश से छह सीटों के लोकसभा सीटों के लिए प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी। अमरोहा लोकसभा सीट से हसनपुर के पूर्व विधायक फरहत हसन बिजनौर से मलूक नागर, मुरादाबाद से लाखन सिंह सैनी, नगीना से गिरीश चन्द्र, मेरठ से हाली शाही अखलाक और संभल से शफीकुर्रहमान वर्क प्रत्याशी घोषित किए गए हैं।

अली ने कहा कि आज की राजनीतिक परिस्थिति के परिप्रेक्ष्य में लोकसभा चुनाव एक वर्ष के भीतर होना तय माना जा रहा है। केन्द्र सरकार में शामिल दलों में अन्तरविरोध है। सरकार का इकबाल नहीं रहा है। जिससे लगता है कि सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी।
 
पार्टी को लग रहा है कि चुनाव के लिए उसकी तैयारी अभी से जरूरी है। बसपा कार्यकर्ता इसके लिए अभी से तैयार हो जाएं और अपने अपने क्षेत्र में कम से कम घोषित प्रत्याशी के लिए काम करना शुरू कर दें।
 
बसपा की नीति शुरू से ही सत्ता के करीब रहने और ज्यादा से ज्यादा चुनाव का सामना करने की रही है। पार्टी के संस्थापक कांशीराम कहा करते थे कि चुनाव से पार्टी मजबूत होती है और सत्ता में जाने अथवा उसके करीब जाने का मौका मिलता है इसलिए कार्यकर्ताओं और नेताओं को हमेशा चुनाव के लिए तैयार रहना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकसभा के लिए प्रत्याशी घोषित कर बसपा ने चौकाया