DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अल्पसंख्यकों की गिरफ्तारी पर नीतीश का एतराज

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दूसरे राज्यों की पुलिस द्वारा राज्य में स्थानीय पुलिस को सूचना दिए बगैर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को गिरफ्तार किए जाने और उसे किसी मॉड्यूल का नाम दिए जाने पर गहरी आपात्ति जताते हुए कहा कि एन.सी.टी.सी. पर मुख्यमंत्रियों की होने वाली बैठक में वह इस मुद्दे को रखेंगे।

कुमार ने आज बिहार विधानसभा में शून्यकाल के दौरान राष्ट्रीय जनता दल के सदस्य चन्द्रशेखर की इससे सम्बंधित सूचना पर कहा कि उन्होंने स्वंय विधानसभा में गृह विभाग की बजट मांग पर चर्चा के दौरान इसका जिक्र करते हुए कहा था कि दूसरे राज्यों की पुलिस बिहार की पुलिस को सूचना दिए बगैर यहां से विशेषकर अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को गिरफ्तार कर ले जाती है और उसे कभी दरभंगा मॉड्यूल कभी मधुबनी मॉड्यूल तो कभी बिहार मॉड्यूल का नाम देती है। उन्होंने कहा कि इस पर सख्त एतराज है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे राज्यों की पुलिस की ऐसी कार्रवाई से स्थानीय स्तर पर वातावरण बिगड़ता है और इससे कानून व्यवस्था की स्थिति भी बिगड़ सकती है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में उन्होंने केन्द्र को पत्र लिखा है और अपनी बात को स्पष्टता से रख दिया है। आगे भी जरूरत के अनुसार वह इस संबंध में अपनी बात को कहते रहेंगे। कुमार ने कहा कि एन.सी.टी.सी. पर मुख्यमंत्रियों की बैठक होने वाली है और उसमें भी वह इस मुद्दे को रखेंगे।

इससे पूर्व श्री चन्द्रशेखर ने कहा कि दिल्ली और महाराष्ट्र की पुलिस बिहार पुलिस को सूचना दिए बगैर प्रवेश करती है और विशेष कर अल्पसंख्यक समुदाय के निर्दोष युवकों को गिरफ्तार कर ले जाती है तथा बाद में आतंकवादी करार देती है। उन्होंने सरकार से दूसरे प्रदेशों की पुलिस की ऐसी कार्रवाई पर तुरंत रोक लगाने की मांग की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अल्पसंख्यकों की गिरफ्तारी पर नीतीश का एतराज