DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फरवरी में निर्यात में 4.2 प्रतिशत की वृद्धि

फरवरी में निर्यात में 4.2 प्रतिशत की वृद्धि

वैश्विक सुस्ती के कारण भारत के निर्यात में इस साल फरवरी के दौरान मामूली बढ़त दर्ज की गई है और यह साल दर साल के हिसाब से 4.2 प्रतिशत बढ़कर 24.6 अरब डॉलर हो गया है।
     
इसके विपरीत आयात में इस दौरान साल दर साल के हिसाब से 20.6 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई और 39.7 अरब डालर हो गया। इस वजह से व्यापार घाटा बढ़कर 15.1 अरब डालर हो गया।
    
वाणिज्य सचिव ने बढ़ते व्यापार घाटे पर चिंता जताते हुए कहा है कि अक्टूबर 2011 से ही निर्यात में आयात के मुकाबले तेजी से गिरावट आ रही है। जुलाई 2011 के दौरान निर्यात में 82 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गई थी। उसके बाद निर्यात में अगस्त में 44.25 प्रतिशत, सितंबर में 36.36 प्रतिशत, अक्टूबर में 10.8 प्रतिशत और नवंबर में 3.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।
     
हालांकि दिसंबर में निर्यात में 6.7 प्रतिशत और फरवरी में 10 प्रतिशत से अधिक की बढ़ोतरी दर्ज की गई। अप्रैल-फरवरी 2011-12 के दौरान निर्यात 267.4 अरब डॉलर रहा जो कि साल दर साल के हिसाब से 21.4 प्रतिशत अधिक है। चालू वर्ष के शुरुआती महीनों में तेजी की वजह से निर्यात में तेजी आई।
     
विशेषज्ञों के मुताबिक देश का निर्यात 2011-12 में 292 से 298 अरब डॉलर रहने की उम्मीद है। पिछले 11 महीने में आयात में 29.4 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई और यह 434.1 अरब डॉलर हो गया। इस दौरान व्यापार घाटा 166.7 अरब डॉलर रहा।
    
फरवरी के दौरान तेल आयात 39.4 प्रतिशत बढ़कर 12.65 अरब डॉलर हो गया जो कि इससे पिछले वित्त वर्ष के नौ अरब डॉलर के मुकाबले अधिक है। गैर-तेल आयात 13.5 प्रतिशत बढ़कर 27.12 अरब डॉलर हो गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फरवरी में निर्यात में 4.2 प्रतिशत की वृद्धि