DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेकी और कुकिंग से दूर होगा छात्रों का तनाव

एचआरडी मंत्रालय की करीकुलम परिषद ने दिया प्रस्ताव
भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) और मैनेजमेंट कॉलेजों के छात्र अब रेकी, क्ले मॉडलिंग, कैंडल मेकिंग, तारकोल पेंटिंग, कुकिंग आदि से तनाव दूर करेंगे। मानव संसाधन विकास मंत्रालय की करीकुलम समीक्षा परिषद ने छात्रों का तनाव कम करने के लिए ये प्रस्ताव दिया है।

परिषद ने अगले सत्र से प्रबंधन संस्थानों में ऐसे ही कुछ अनिवार्य कामों को करने की सूची बनाई है। प्रस्ताव के अनुसार सूची में तनाव दूर करने के लिए छात्रों को अनिवार्य तौर से तीन एक्टिविटीज करनी होंगी। सूची में बीस एक्टिविटीज दी गई हैं। ये नए कोर्स सभी आईआईएम और एआईसीटीई द्वारा प्रमाणित बी-स्कूलों में लागू होंगे। परिषद ने इंडस्ट्री के विशेषज्ञों, मनोवैज्ञानिकों, शिक्षाविद् से एक साल तक मशविरा करने के बाद सूची बनाई है। परिषद से जुड़े एक सदस्य ने बताया कि इन एक्टिविटीज का मकसद छात्रों के तनाव के स्तर को कम करना है। उन्होंने कहा कि तनाव की वजह से अक्‍सर छात्रों के लिए प्रतिकूल परिस्थितियां पैदा हो जाती हैं।

आईआईएम के एक निदेशक का कहना है कि छात्रों का पूरा दिन असाइंमेंट बनाने, कक्षा और प्रेजेंटेशन बनाने में चला जाता है। ऐसे में इस तरह की एक्टिविटीज छात्रों को राहत प्रदान करेंगी। एक बी-स्कूल के निदेशक का कहना है कि इस तरह की एक्टिविटीज से छात्रों को राहत नहीं मिलेगी। छात्रों के पास समय बहुत अधिक नहीं होता है। उन्होंने कहा कि अगर एमबीए के स्तर पर छात्र तनाव का सामना करने में सक्षम नहीं है तो नौकरी के दौरान वह चुनौतियों का सामना करने में बिखर जाएंगे।

इसे लेकर छात्रों की अलग-अलग राय सामने आई है। दिल्ली के बी-स्कूल में पढ़ाई करने वाले एक छात्र का कहना है कि वह लंबे समय से क्ले मॉडलिंग सीखना चाह रहा था। छात्र का कहना था कि इस तरह की एक्टिविटीज तनाव कम करती है। वहीं एक अन्य छात्र का कहना था कि इस तरह की एक्टिविटीज से पढ़ाई प्रभावित होगी। उम्मीद की जा रही है कि प्रस्ताव के बारे में आधिकारिक सूचना इस हफ्ते जारी हो जाएगी।

सेहत का सिलेबस
सभी आईआईएम और एआईसीटीई में लागू होंगे ये नए कोर्स
छात्रों को अनिवार्य तौर से तीन एक्टिविटीज करनी होंगी
विशेषज्ञों और मनोवैज्ञानिकों से मशविरा करने के बाद परिषद ने बनाई एक्टिविटीज की सूची

समिति ने किया सर्वे
2011 में बनी समिति ने तकनीक संस्थानों और बी-स्कूल के छात्रों की समस्याओं को लेकर छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों से बात की। अनौपचारिक सर्वे में सामने आया कि छात्रों में तनाव के अलग-अलग कारण हैं। समिति ने बातचीत के दौरान पाया कि अगर छात्रों की रोजमर्रा की जिंदगी में कुछ हल्की गतिविधियों को शामिल किया जाए तो तनाव कम होता है।

कौन-कौन सी एक्टिविटीज
प्लेइंग द सेलो
कम्युनिकेटिंग इन मोर्स कोड
पेपर-फ्लावर मेकिंग
क्ले मॉडलिंग
कुकिंग
तारकोल पेंटिंग
ताईची
हाइकू
वुलेन निटिंग
कैंडल मेकिंग
बॉलरूम डांसिंग
रेकी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेकी और कुकिंग से दूर होगा छात्रों का तनाव