DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गरीब हैं तो दें 80 सवालों का जवाब

अगर आप गरीब हैं तो आपको अपनी दीनता साबित करनी होगी। इसके लिए आपको इतने सवालों के जवाब देने होंगे जो शायद आईएएस या आईपीएस बनने के लिए होने वाले साक्षात्कार में भी नहीं पूछे जाते।

गरीबी की परिभाषा को आंकड़ों में उलझाने के बाद सरकार अब गरीबों को सवालों में उलझा रही है। उनसे 80 से अधिक सवालों के जवाब पूछे जा रहे हैं और जरा सी चूक हुई नहीं कि नाम गरीबों की सूची से कट जाएगा।

शहरों में गरीबी रेखा 28.65 रुपये और गांवों में 22.50 रुपये तय करने के बाद बीपीएल परिभाषा पर फजीहत झेलने के बाद सरकार नए फामरूले पर गरीबों की पहचान कर रही है। सामाजिक, आर्थिक और जातिगत जनगणना में गरीबों से 80 से भी अधिक सवाल पूछे जा रहे हैं।

ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा तैयार सवालों के जवाब के आधार पर सरकार गरीबी की पात्रता तय करेगी। इसमें लोगों की जाति और धर्म के शैक्षणिक जानकारी भी एकत्र की जा रही है। उन्हें निजी जीवन की जानकारी भी देनी होगी, जैसे शादीशुदा हैं या तलाकशुदा। आखिर में पूछा जा रहा है कि जाति और धर्म को छोड़कर बाकी जानकारी सार्वजनिक करने में आपत्ति तो नहीं। यदि नहीं है तो उनके जवाब सार्वजनिक किए जा सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गरीब हैं तो दें 80 सवालों का जवाब