DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली पुलिस ने चोरी के मामले में किया था गिरफ्तार

सेक्टर-18 की मार्केट से जिस युवक का शनिवार को अपहरण हुआ था, उसका पुलिस ने पटाक्षेप कर दिया है। युवक का अपहरण नहीं हुआ, अपितु उसे दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच अपराधिक मामले में यहां से उठाकर ले गई थी। दिल्ली पुलिस ने शनिवार देर रात यह सूचना ओल्ड थाना पुलिस को दी थी, तब तक ओल्ड पुलिस परिजनों की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज कर चुकी थी। इसमें दोनों पुलिस के बीच तालमेल का अभाव दिखाई दिया। अगर दिल्ली पुलिस सही समय पर इसकी सूचना दे देती तो अपहरण का मामला दर्ज नहीं होता।

उल्लेखनीय है कि ओल्ड फरीदाबाद सेक्टर-18 के बुद्धदेव की शिकायत पर पुलिस ने शनिवार को अपहरण का मामला दर्ज किया था। परिजनों ने पुलिस को बताया कि मनोज कुमार उर्फ राजू दिल्ली की साकेत कोर्ट में पेशी पर गया था। वापसी में घर पहुंचने के बाद उसका सेंट्रो कार सवार युवकों ने सेक्टर-18 के बाजार से अपहरण कर लिया। इस वारदात के बाद ओल्ड थाना एसएचओ विजय सिंह ने दिल्ली पुलिस से संपर्क भी साधा था, लेकिन मामला दर्ज करने तक दिल्ली पुलिस की ओर से इस बारे में अवगत नहीं कराया गया। इसके चलते ओल्ड थाना पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर वारदात सुलझाने के लिए कई टीमें बना दी। ये टीमें अलग-अलग इलाकों में युवक की तलाश में छापामारी करने निकल गई। इसी बीच देर शाम दिल्ली पुलिस की ओर से फरीदाबाद पुलिस को संदेश मिला कि सेक्टर-18 में रहने वाले मनोज कुमार उर्फ राजू को उन्होंने अपराधिक मामले में गिरफ्तार किया है। इसके बाद ही फरीदाबाद पुलिस ने राहत की सांस ली। इस सूचना के बाद विभिन्न इलाकों में युवक की तलाश में गई पुलिस टीमों को वापस बुलाया गया। इसमें दिल्ली व हरियाणा पुलिस के बीच तालमेल का अभाव सामने आया। कहा जा रहा है कि जब दिल्ली पुलिस ने यहां से युवक को गिरफ्तार किया तो इसकी तुरंत स्थानीय थाना पुलिस को सूचना देनी चाहिए थी। जबकि ओल्ड थाना एसएचओ इस वारदात के बाद लगातार दिल्ली पुलिस से संपर्क साधते रहे। अगर दिल्ली पुलिस सही समय से इसकी जानकारी स्थानीय पुलिस को दे देती तो अपहरण का मामला दर्ज नहीं होता।
---------------------
अपह्रत युवक के खिलाफ दिल्ली में दर्ज हैं 9 मुकदमे
ओल्ड थाना पुलिस ने बताया कि जिस युवक को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ दिल्ली में नौ मामले दर्ज हैं। एक मुकदमा एनडीपीएस का, तीन मुकदमे झपटमारी के, तीन मुकदमे आर्म्स एक्ट के, एक मुकदमा दुर्घटना का तथा एक मुकदमा चोरी का दर्ज है। शनिवार को दिल्ली पुलिस ने इसे दिल्ली के थाना मुखरजी इलाके से वर्ष 2011 में दर्ज हुए मुकदमा नंबर 78 के मामले में गिरफ्तार किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दिल्ली पुलिस ने चोरी के मामले में किया था गिरफ्तार