DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधानसभा में सीएनटी पर हंगामा

बजट सत्र के अंतिम दिन शनिवार को हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही नहीं चली। लेकिन हंगामे के बीच ही साईंनाथ विश्वविद्यालय झारखंड विधेयक पास हो गया। राज्यसभा चुनाव में नोट फॉर वोट की सीबीआई जांच की मांग को लेकर सुबह विपक्ष ने हंगामा किया।

वहीं भोजनअवकाश के बाद सीएनटी पर बहस क राने की विपक्ष की मांग पर सदन गरमाया रहा। दिन में 11 बजे सदन की कार्यवाही जैसे ही शुरू हुई विपक्षी सदस्य वेल में आ गए और सीबीआई जांच की मांग करने लगे।

शोरगुल बढ़ता देख स्पीकर ने दोपहर दो बजे तक कार्यवाही टाल दी। भोजनावकाश के बाद सत्र शुरू होते ही झामुमो के चार विधायक वेल में आ गए और सीएनटी पर बहस की मांग करने लगे। वहीं विपक्ष राज्यसभा चुनाव में नोट फॉर वोट के मामले पर बहस चाह रहा था।

इसे लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच नोकझोंक भी हुई। अंतत: विधानसभा अध्यक्ष सीपी सिंह ने अपना समापन भाषण पढ़ना शुरू कर दिया। इस बीच विपक्ष के विधायक वाकआउट कर गए। साथ ही सत्ता पक्ष से भी शोरगुल-नारेबाजी जारी रही। इसे देखते हुए अध्यक्ष ने अपना अभिभाषण खत्म कर सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए टाल दी।

सदन में फिर लहराया हिन्दुस्तान :
विधानसभा में बजट सत्र के अंतिम दिन भी हिन्दुस्तान की खबरों का बोलबाला रहा। विधायक बंधु तिर्की ने हिन्दुस्तान में सीएनटी पर छपी खबरों की ओर विधानसभा का ध्यान आकृष्ट कराया। 29 मार्च के अंक में हिन्दुस्तान ने कोर्ट के निर्देश के बाद भी दखलदिहानी नहीं मिलने और टीएसी की अनुशंसा के बाद भी एसएआर कोर्ट बंद नहीं होने की खबर प्रमुखता से छापी थी। तिर्की ने कहा कि अध्यक्ष महोदय इस पर कार्रवाई होनी चाहिए।

भाजपा के रघुवर दास ने दुमका की पंचायत में हुए नरसंहार का मामला उठाते हुए हिन्दुस्तान का हवाला दिया। इस पर स्पीकर सीपी सिंह ने सरकार को विधिसम्मत कार्रवाई का निर्देश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधानसभा में सीएनटी पर हंगामा