DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्य भर में बैंकों से दो हजार करोड़ का बिल

रांची हिन्दुस्तान ब्यूरो। राज्यभर में राष्ट्रीयकृत बैंकों से शनिवार को लगभग 2000 करोड़ रुपए का बिल पास हुआ। सिर्फ राजधानी में 1000 करोड़ रुपए का बिल पास हुआ। एसबीआइ मुख्यालय रात के11 बजे तक खुला रहा। सबसे अधिक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया से 1200 करोड़ रुपए ट्रेजरी में जमा किए गए।

बैंक प्रबंधन के अनुसार 11 घंटों में रिकॉर्ड बिल पास किए गए। बैंक ऑफ इंडिया ने पिछले एक सप्ताह में लगभग 500 करोड़ रुपए का बिल पास किया। एक शाखा से दूसरी शाखा में भी हुआ स्थानांतरण31 मार्च को सरकारी व्यापार के तहत एक शाखा से दूसरी शाखा में राशि स्थानांतरित की गई। ग्रामीण क्षेत्र की शाखाओं की राशि शहरी क्षेत्र की शाखाओं में स्थानांतरित हुआ।

इसमें लगभग 200 करोड़ रुपए स्थानांतरित किए गए। आम उपभोक्ताओं की भीड़ रही कमशनिवार को बैंकों में आम उपभोक्ताओं की भीड़ कम रही। बैंकों में सिर्फ सरकारी लेन-देन का ही काम हुआ। हर दिन राज्यभर में आम उपभोक्ता के बीच लगभग 150 करोड़ रुपए का ट्रांसजेक्शन होता है।

31 मार्च को यह 125 करोड़ रुपए में ही सिमट गया। बैंकों को हुआ फायदा, एनपीए की हुई रिकवरी31 मार्च को बैंकों को फायदा हुआ। एनपीए (नॉन परफोरमिंग एसेट) की रिकवरी हुई। एनपीए लोन एकाउंट स्टैंडर्ड एसेट में परिवर्तित किए गए। इस हिसाब से 500 करोड़ की राशि बैंकों में आई।

दो अप्रैल को बैंक रहेंगे बंदवार्षिक लेखा बंदी के कारण दो अप्रैल को सभी राष्ट्रीयकृत बैंक बंद रहेंगे। कैनरा बैंक ने हाउसिंग लोन की ब्याज दर घटायीकैनरा बैंक ने हाउसिंग लोग की ब्याज दर घटा दी है। यह दो अप्रैल से प्रभावी होगा। अब हाउसिंग लोन की नई ब्याज दर 10.75 से 11.25 फीसदी के बीच होगी।

मार्च लूट’ राजधानी में 1000 करोड़ रुपए का बिल पास’ रात 11 बजे तक खुला रहा एसबीआइ मुख्यालय ’ एनपीए स्टैंडर्ड एसेट में परिवर्तित, 500 करोड़ बैंकों में आए’ कैनरा बैंक के होम लोन की ब्याज दर 10.75 से 11.25 के बीच होगी’ 25 करोड़ कम ट्रांजेक्शन हुआ ग्राहकों का

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राज्य भर में बैंकों से दो हजार करोड़ का बिल