DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हार से बौखलाए बसपाइयों ने की जुगुल के खिलाफ हूटिंग

मण्डलीय कार्यकर्ता सम्मेलन में शामिल होने आए बसपा के जोनल कोआर्डिनेटर सांसद जुगुल किशोर को सोमवार को अपने ही कार्यकर्ताओं के आक्रोश का सामना करना पड़ा। विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार से बौखलाए बसपाइयों ने नारेबाजी करते हुए पूर्वाचल में बुरी दशा के लिए उनको जिम्मेदार ठहराया। आरोप लगाया कि टिकट वितरण में व्यापक स्तर पर धांधली की गई। जमीनी कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की गई।

पहली बार किसी बैठक में कार्यकर्ताओं के आक्रोशित रूप को देख जोनल कोआर्डिनेटर आश्चर्यचकित हो गए। अम्बे मैरेज हाउस में आयोजित सम्मेलन में विधायक राजेन्द्र बृजेश सिंह की माता एवं पुत्र की असमय मौत पर शोक प्रकट कर वह तत्काल सर्किट हाउस निकल गए। वहीं पर जिलावार मण्डल की समीक्षा करने के साथ ही नई जिला कमेटी के लिए दावेदारों का बायोडाटा लिया।

विधानसभा चुनाव के दौरान पूर्वाचल में टिकट वितरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले बसपा मुखिया मायावती के करीबी एवं पूर्वी यूपी के जोनल कोआर्डिनेटर सांसद जुगुल किशोर चुनाव बाद पहली दफा गोरखपुर आए थे। मण्डलीय कार्यकर्ता सम्मेलन में शाम करीब साढ़े चार बजे पहुंचे सांसद ने डॉ. अम्बेडकर एवं बसपा संस्थापक स्वर्गीय कांशीराम के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद अभी कुर्सी संभाला ही था कि उनके खिलाफ नारेबाजी शुरू हो गई।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से नारेबाजी का कारण पूछा तो किसी ने जवाब देने की बजाए नारेबाजी और तेज कर दी। ‘वापस जाओ.. वापस जाओ’ के नारे लगाते हुए बसपाइयों ने आरोप लगाया कि टिकट वितरण में मनमानी करने के साथ ही कई जमीनी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की गई। इस कारण पार्टी को पराजय का मुंह देखना पड़ा। नाराजगी देख सांसद भी वहां से सर्किट हाउस निकल गए और वहीं पर मण्डल के चारों जिलों की समीक्षा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हार से बौखलाए बसपाइयों ने की जुगुल के खिलाफ हूटिंग