DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिग्री कालेज के परीक्षार्थियों को नहीं मिलेगी बी-कापी

मथुरा। निज संवाददाता

डाक्टर भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय ने इस बार परीक्षाओं की प्रक्रिया में परिवर्तन कर दिया गया है। इसके तहत अब बीए, बीएससी, बीकॉम, एमए, एमएसस, एमकॉम आदि अन्य सभी पाठय़क्रमों के परीक्षार्थियों को बी-कापी नहीं मिलेगी। बीआर विवि प्रशासन ने इस बार से परीक्षा प्रक्रिया में बदलाव कर दिया है। सभी परीक्षार्थियों को प्रवेशपत्र के लिये कालेज जाने की आवश्यकता नहीं है। आरसीए डिग्री कालेज की प्राचार्या व नोडल सेंटर प्रभारी डॉ. प्रीति जौहरी ने बताया कि इस बार काफी बदलाव विवि प्रशासन ने कर दिया है। अब प्रवेशपत्र के लिये कालेज के चक्कर लगाने की बचत हो गयी है। परीक्षार्थी ऑनलाइन इंटरनेट के माध्यम से अपने प्रवेशपत्र प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा इस बार किसी भी परीक्षार्थी को बी कॉपी नहीं दी जायेगी। यह व्यवस्था विवि ने बंद कर दी है। इसके बजाय उत्तर पुस्तिकाओं का साइज बढ़ाने के साथ ही उनके पेज बढ़ा दिये हैं। पहले विवि की उत्तर पुस्तिका 24 पेज की होती थी उसे बढ़ाकर बीए के परीक्षार्थियों को 36 पेज की, एमए के परीक्षार्थियों को 40 पेज की, प्रैक्टिकल की उत्तर पुस्तिका 12 पेज की कर दी गयी है। परीक्षार्थियों को इसी में सभी प्रश्नों के उत्तर हल करने हैं। तीन विषय के एक-एक पेपर होगा ऑब्जेटिव टाइपमथुरा। विवि प्रशासन ने इस बारे तीन विषयों के पेपरों में भी बदलाव कर दिया है। इसके तहत जनरल हिन्दी, अंग्रेजी व समाज शास्त्र का एक पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होंगे। इसके तहत परीक्षार्थियों को टिकमार्क कर प्रश्नों को हल किया जायेगा। नोडल सेंटर प्रभारी डॉ. प्रीति जौहरी ने बताया कि इन पेपरों का प्रत्येक प्रश्न आधे-आधे अंक का होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डिग्री कालेज के परीक्षार्थियों को नहीं मिलेगी बी-कापी