DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चेकिंग के भय से छात्र को छोड़कर भागे अपहर्ता

मर्यादपुर/रतसर। हिन्दुस्तान टीम

मधुबन थानान्तर्गत काठतरांव (रतनपुरा) में शनिवार को अपहर्ताओं ने स्कूल जाते समय कक्षा छह के छात्र का अपहरण कर लिया। वाहन चेकिंग के डर से अपहर्ता उसे छोड़कर भाग गये। होश आने पर लोगों ने छात्र को रतसर (बलिया) स्थित ननिहाल में पहुंचा दिया।

शनिवार की रात परिजन उसे वापस लाये।

वीर अब्दुल हमीद इंटर कालेज (मर्यादपुर) में कक्षा छह के छात्र आदित्य कुमार (11) पुत्र चन्द्रकांत मौर्य शनिवार को सुबह दस बजे साइकिल से स्कूल जा रहा था। रामपुर बेलौली पुलिस चौकी से 200 मीटर दूर तीन बाइकों व एक चार पहिया वाहन में सवार युवकों ने उससे इब्राहिमपुर का रास्ता पूछा। इस बीच, बाइक सवार अपहर्ताओं ने उसके मुंह पर रुमाल लगा दिया और वाहन में उसे लेकर फरार हो गये। अपहर्ता बलिया ओवरब्रिज पर पहुंचे। ओवरब्रिज पर वाहनों की चेकिंग चल रही थी। इस भय से अपहर्ताओं अपहृत छात्र को ओवरब्रिज के पास फेंक दिया और वे फरार हो गये।

होश आने पर छात्र ने लोगों को अपना नाम तथा घर बताया। इस पर नजदीक की कोई रिश्तेदारी नागरिकों ने पूछी तो वह बताया कि उसका ननिहाल बलिया के रतसड़ में है। इस पर नागरिकों ने उसे रतसर स्थित ननिहाल पहुंचा दिया।

सूचना मिलते ही उसके परिजन रात में रतसर पहुंच गये। रविवार को परिजनों ने मधुबन पुलिस को लिखित तहरीर दी। हिसं रतसर के मुताबिक रविवार की सुबह गड्ढे में छात्र की साइकिल व स्कूल बैग मिलने से सनसनी फैल गयी। लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने साइकिल व बस्ते को पानी से बाहर निकलवाया। अनहोनी की आशंका पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। जानकारी होने के बाद चौकी प्रभारी बच्चोंलाल प्रसाद मौके पर पहुंच गये। इस बीच, जनार्दन मौर्य ने आदित्य को अपना नाती बताया। पुलिस ने छात्र के परिजनों से सम्पर्क किया तो सारी स्थिति स्पष्ट हो गयी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चेकिंग के भय से छात्र को छोड़कर भागे अपहर्ता