DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डकैती के मामले में पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं

साफ्टवेयर कंपनी के डायरेक्टर के घर पर हुई डकैती के मामले में पुलिस कुछ खास सुराग हासिल नहीं कर पाई है। दिन में पुलिस ने आसपास रहने वाले चौकीदारों से गहराई से पूछताछ की। जबकि, एक बदमाश का स्केच भी तैयार कराया गया है। हालांकि, अभी तक मामले में निर्णायक सुराग हाथ लगने से इनकार किया जा रहा है।

शनिवार की तड़के डीएलएफ फेज पांच स्थित एक्सक्लूसिव फ्लोर्स में रहने वाले साफ्टवेयर कंपनी के डायरेक्टर के घर पर डकैत घुस आए थे। डायरेक्टर और उनकी पत्नी शुक्रवार की रात अपने दोस्त के यहां रुके थे। घर पर उनकी मां और दो बच्चाे मौजूद थे। सुबह पौने पांच बजे के लगभग पीछे की दीवार फांदकर कुछ बदमाश घर में घुस आए। उन्होंने पीछे के दरवाजे की जाली काटकर हाथ डालकर दरवाजा खोल लिया। उसके बाद किचन का दरवाजा सरिया फंसाकर खोल लिया। अंदर घुसने के बाद बदमाशों ने डायरेक्टर की मां व बच्चाों को बंधक बना लिया। घर पर मेड भी मौजूद थी। उसे भी बदमाशों ने बंधक बनाया। सभी को जान से मारने की धमकी देने के बाद बदमाशों ने पूरे घर का सामान अलट-पलट किया और डेढ़ लाख रुपये की नगदी व लाखों कीमत के जेवरात लूट लिए। बाद में सभी को एक कमरे में बंदकर वे फरार हो गए।

पाश इलाके में हुई डकैती की घटना से पुलिस के हाथ-पैर फूले हुए हैं। मौके से पुलिस ने फिंगर प्रिंट्स आदि उठाए हैं। वहीं, डाग स्क्वैड की भी मदद ली गई है। वहीं, रविवार दिन में पुलिस ने एक बदमाश के स्कैच भी बनवाए हैं। दूसरी ओर, इमारत के आसपास रहने वाले चौकीदारों से भी पूछताछ की गई। पुलिस का अनुमान है कि चौकीदारों के डय़ूटी समाप्त करके जाने के बाद ही डकैत घर के अंदर घुसे। सुशांतलोक थाना प्रभारी अमरजीत के मुताबिक मामले में पुलिस की टीमें तेजी से काम कर रही हैं। जल्द मामले का खुलासा कर लिया जाएगा।

लगाया जाएगा सीसी टीवी
वहीं, डकैती की घटना के बाद स्थानीय निवासियों की ओर से सीसी टीवी लगाने और सिक्युरिटी टाइट करने की मांग जोर पकड़ने लगी है। इस संबंध में दिन में आसपास के लोगों ने विचार-विमर्श भी किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डकैती के मामले में पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं